Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > वाह-री नगर निगम, वर्षो पुराने कुए पर बनवा दिया तीन मंजिला भवन

वाह-री नगर निगम, वर्षो पुराने कुए पर बनवा दिया तीन मंजिला भवन

समाधिया कॉलोनी में अवैध निर्माण चर्चाओं में

वाह-री नगर निगम, वर्षो पुराने कुए पर बनवा दिया तीन मंजिला भवन

ग्वालियर,न.सं.। एक ओर जहां जिला प्रशासन द्वारा एंटी माफिया सेल का गठन कर अवैध रूप से बने भवनों को नोटिस देकर तोड़े जाने की कार्रवाई की जा रही है। वहीं समाधिया कॉलोनी में इन दिनों अवैध निर्माण धड़ल्ल्ले से किए जा रहे है। और तो और एक भू स्वामी ने तो वर्षो पुराने कुए पर कब्जा कर वहां तीन मंजिला भवन तान दिया है। जिसमें दो तलों पर तो दुकाने निकालकर उनकी बुकिंग भी की जा रही है। समाधिया कॉलोनी के मुख्य मार्ग पर शासकीय भूमि पर कब्जा कर इस इमारत को बनाए जाने की जानकारी निगम अधिकारियों को भी है। लेकिन वे कोई कार्रवाई नहीं कर रहे है। उल्लेखनीय है कि समाधिया कॉलोनी में बहुत सी ऐसी शासकीय जमीने और नाले है, जिन पर कब्जे कर भवनों का निर्माण कर लिया गया है। शहर की समाधिया कॉलोनी में एक व्यापारी ने ने नगर निगम के अधिकारियों से सांठगांठ कर पुराने कुए पर तीन मंजिला भवन का निर्माण कर लिया। इस कुए को जब बंद किया गया, तो स्थानीय लोगो ने काफी विरोध किया। इतना ही नहीं लोगों ने कई बार निगमायुक्त से लेकर भवन अधिकारियों से भी शिकायत की। लेकिन विरोध के बावजूद भवन स्वामी ने तीन मंजिला भवन का निर्माण कर लिया। वहीं समाधिया कॉलोनी में सडक़ पर ही भवन निर्माण सामग्री रखवाई जा रही है, जिससे यहां से निकलने के लिए रास्ता नहीं बचता है। इससे स्थानीय लोगों को तो परेशानी होती ही है, साथ ही वाहन चालकों को भी आने-जाने में दिक्कत होती है। सडक़ पर यह सामग्री भवन निर्माण सामग्री का कारोबार करने वालों के अलावा मकानों का निर्माण कराने वालों द्वारा रखवाई जा रही है।

तुड़ाई न हो, तो रोक दिया काम

भवन स्वामी को जब यह पता चला कि शहर भर में भू-माफियाओं के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। तो भवन स्वामी ने निर्माण कार्य को बंद करवा दिया। इतना ही नहीं भवन पर किसी की नजर न पड़े, तो उन्होंने सामने की ओर से त्रिपाल डाल दी। जबकि स्थानीय लोगों का कहना है कि निर्माण कार्य अंदर ही अंदर चल रहा है।

गिरवाई क्षेत्र में भी कब्जा

सूत्रों ने बताया कि भवन स्वामी द्वारा गिरवाई क्षेत्र में भी आदिवासियों की जमीन पर कब्जा किया गया है। कब्जा कर वहां अवैध रूप से कॉलोनी काटकर मनमाने दामों पर भूखंड विक्रय किए जा रहे है। इस कार्य में उनके साथ कुछ भूमाफिया भी शामिल है।

कार्रवाई करने का प्रावधान है

कॉलोनी में रहने वाले अधिकांश लोगों द्वारा भवन निर्माण सामग्री का कारोबार किया जाता है, जिनके द्वारा बाहर से बिल्डिंग मटेरियल मंगवाया जाता है और सडक़ के किनारे ही डंप लगाकर रख लिया जाता है, यहां से ही इसका कारोबार किया जा रहा है। नियमानुसार शासकीय जगह पर किसी भी प्रकार का मटेरियल रखकर कब्जा नहीं किया जा सकता है, ऐेसा करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने का भी प्रावधान है, लेकिन नगर निगम प्रशासन के उदासीन रवैये के कारण भवन निर्माण सामग्री के कारोबारियों द्वारा इसका फायदा उठाकर सडक़ पर मटेरियल रखवाया जा रहा है।

कॉलोनी की सडक़ काफी संकरी हैं

बिल्डिंग मटेरियल रखे होने से आने-जाने में परेशानी और बढ़ जाती है। कई बार वाहन चालकों के निकलने के लिए जगह नहीं बचती है तो उनके द्वारा विरोध किया जाता है, जिससे विवाद की स्थिति बन जाती है। भवन निर्माण सामग्री के कारण वाहन चालक फिसलकर चोटिल हो जाते हैं। स्थानीय लोगों द्वारा कई बार प्रशासन को इस संबंध में अवगत कराया गया है, लेकिन किसी भी अधिकारी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया है।

Updated : 2019-12-23T06:30:12+05:30
Tags:    

Swadesh News ( 0 )

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top