Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > हाईटैक हुई बिजली कम्पनी, शहर में पहली बार ऑनलाइन काटे गए 13 बकायादारों के विद्युत कनेक्शन

हाईटैक हुई बिजली कम्पनी, शहर में पहली बार ऑनलाइन काटे गए 13 बकायादारों के विद्युत कनेक्शन

हाईटैक हुई बिजली कम्पनी, शहर में पहली बार ऑनलाइन काटे गए 13 बकायादारों के विद्युत कनेक्शन
X

ग्वालियर। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी अब हाईटैक हो गई है। शहर में बुधवार को पहली बार विद्युत अधिकारियों द्वारा अपने कार्यालय में बैठकर कम्प्यूटर के माध्यम से 13 बकायादार उपभोक्ताओं के विद्युत कनेक्शन हाईटैक अंदाज में ऑनलाइन काटे गए। इसके अलावा मौके पर पहुंचकर कुछ ऐसे उपभोक्ताओं के कनेक्शन भी काटे गए, जिन पर पांच लाख से अधिक बिल बकाया है।

यहां बता दें कि बिजली कम्पनी ने रोशनीघर में स्काडा सिस्टम विकसित किया है, जिससे शहर के अधिकांश विद्युत उपकेन्द्रों और फीडरों को जोड़ा जा चुका है। इसके साथ ही शहर की चुनिंदा पॉश कॉलोनियों में करीब सात हजार उपभोक्ताओं के गु्रप मीटर विद्युत खम्बों पर लगाए गए हैं। ऐसी ही पॉश कॉलोनी सेवानगर स्थित अमरकंटक इन्क्लेव में बुधवार को 13 बकायादार उपभोक्तओं के विद्युत कनेक्शन ऑनलाइन काटे गए। ऑनलाइन विद्युत कनेक्शन काटने की यह कार्रवाई रोशनीघर स्थित उत्तर संभाग कार्यालय से की गई। अमरकंटक इन्क्लेव में जिन उपभोक्ताओं के ऑनलाइन कनेक्शन काटे गए हैं, उनमें उमेश परमार पर 18 हजार 509 रुपए, राजू गौर पर 15 हजार 38 रुपए, राधा आर्य पर 8 हजार 629 रुपए, कुलदीप शिवहरे पर 17 हजार 902 रुपए, अभिषेक बांदिल पर 15 हजार 347 रुपए, गिरजा शर्मा पर 15 हजार 294 रुपए, प्रकाश सिंह पर 13 हजार 398 रुपए, महेन्द्र यादव पर 11 हजार 471 रुपए, रघुवीर सिंह पर 17 हजार 135 रुपए, हेमंत भटनागर पर 8 हजार 153 रुपए, अनुराधा आरोरा पर 5 हजार 908 रुपए, लोकेश सिंह पर 10 हजार 471 रुपए एवं हरेशी अरोरा पर 5 हजार 725 रुपए का बिल बकाया है। इनके अलावा घासमंडी में भी कई ऐसे उपभोक्ताओं के विद्युत कनेक्शन काटे गए, जिन पर पांच लाख से अधिक बिल बकाया है। इनमें नितिन सिंह चौहान पर 6.15 लाख एवं रमजान खान पर 6.10 लाख का बिल बकाया है। बताया जा रहा है कि आने वाले समय में बिजली कम्पनी शहर में सभी उपभोक्ताओं के यहां गु्रप विद्युत मीटर लगाएगी, जिससे अधिकारी अपने कार्यालय में बैठे-बैठे ही बकायादार उपभोक्ताओं के कनेक्शन ऑनलाइन काटने में समक्ष होंगे और बिल जमा होने पर ऑनलाइन ही कनेक्शन पुन: चालू किए जा सकेंगे। इससे बकायादार उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटते समय होने वाले विवाद और विद्युत कर्मचारियों के साथ मारपीट की घटनाओं से भी मुक्ति मिलेगी।

Updated : 2019-12-26T05:30:41+05:30
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top