Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > सद्भावना का अनूठा उदाहरण, मंत्री, महापौर ने स्वच्छता दूतों को अपने हाथों से परोसा भोजन

सद्भावना का अनूठा उदाहरण, मंत्री, महापौर ने स्वच्छता दूतों को अपने हाथों से परोसा भोजन

स्वच्छता दूतों ने भी परोसकर खिलाया खाना, स्वच्छता पखवाड़े का समापन, स्वच्छता दूत सम्मानित

सद्भावना का अनूठा उदाहरण, मंत्री, महापौर ने स्वच्छता दूतों को अपने हाथों से परोसा भोजन
X

ग्वालियर। गाँधी जयंती के अवसर पर ग्वालियर में सद्भावना और अस्पृश्यता का सुन्दर और अनूठा उदाहरण देखने को मिला। नगर निगम द्वारा आयोजित स्वच्छता पखवाड़ा समापन और स्वच्छता दूत सम्मान समारोह के मौके पर आयोजित भोज में मंत्री माया सिंह, महापौर विवेक शेजवलकर सहित अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों ने स्वच्छता दूतों को अपने हाथों से भोजन कराया औरा इसके बाद स्वच्छता दूतों ने भी सभी को भोजन परोसकर खिलाया।

ग्वालियर नगर निगम के गालव सभागार में गाँधी जयंती के अवसर पर स्वच्छता पखवाड़ा समापन समारोह और स्वच्छता दूत सम्मान समारोह आयोजित किया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि प्रदेश की नगरीय विकास और आवास मंत्री माया सिंह ने स्वच्छता पखवाड़े के दौरान अच्छा कार्य करने वाले स्वच्छता दूतों को सम्मानित किया और स्वच्छता की शपथ दिलाई। अपने सम्बोधन में उन्होंने कहा कि ग्वालियर स्वच्छता में नं.-1 पर आए इसके लिये हम सभी को मिलकर प्रयास करने की आवश्यकता है। श्रीमती माया सिंह ने कहा कि किसी भी शहर को स्वच्छ करने और रखने में वहाँ के सफाई संरक्षकों की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण होती हैं।


कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे महापौर विवेक शेजवलकर ने कहा कि मेरे पिताजी तीन बार महापौर रहे और मैं दूसरी बार महापौर हूँ इसलिए स्वच्छता दूतों अर्थात सफाई संरक्षकों से पारिवारिक संबंध है। हम सब एक दूसरे के दुःख सुख के साथी हैं।

इस अवसर पर नगर निगम ने एक सहभोज का आयोजन किया गया जिसमें सद्भावना हुए अस्पृश्यता का अनूठा और सुंदर उदाहरण देखने को मिला जिसमें पहले खाना खाने बैठे स्वच्छता दूतों को मंत्री माया सिंह, महापौर विवेक शेजवलकर, कलेक्टर अशोक कुमार वर्मा, निगम कमिश्नर विनोद शर्मा, पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन सहित अन्य अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों ने अपने हाथों भोजन कराया और इसके बाद भोजन करने बैठे मंत्री, महापौर सहित अन्य अधिकारियों और जान प्रतिनिधियों को अपने हाथों से भोजन कराया।

श्रीमती माया सिंह ने कहा कि नगर निगम ग्वालियर के सहभोज का आयोजन अनुकरणीय है। अन्य नगरीय निकायों को भी इस प्रकार के आयोजन करना चाहिए। जिससे सद्भावना का सन्देश सभी तक पहुंचेगा।

Updated : 2018-10-03T03:18:07+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top