Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > नोडल अधिकारी हमें कुत्ता बनाने की धमकी देते है

नोडल अधिकारी हमें कुत्ता बनाने की धमकी देते है

कम्प्यूटर ऑपरेटरों ने बंद किया काम, जनमित्र केन्द्रों पर लटके रहे ताले,नहीं बनी समग्र आईडी कर्मचारियों ने सौंपा ज्ञापन, निगमायुक्त ने दिया कार्रवाई का आश्वासन

नोडल अधिकारी हमें कुत्ता बनाने की धमकी देते है
X

ग्वालियरकमिश्नर साहब नोडल अधिकारी द्वारा हमें धमकी दी जाती है कि कुत्ता बना दिए जाओगे। अब आप ही हमें उनसे बचा सकते हो। यह बात सोमवार को गुस्साए नगर निगम के कम्प्यूटर ऑपरेटरों ने निगमायुक्त विनोद शर्मा से कही। बीते दिनों क्षेत्रीय कार्यालय क्रमांक पांच में कम्प्यूटर ऑपरेटर रवि कुमार के साथ हुई मारपीट व नोडल अधिकारी की मनमानी से कम्प्यूटर ऑपरेटरों में भारी आक्रोश है। जिसके चलते सोमवार को सभी कम्प्यूटर ऑपरेटरों ने काम बंद कर दिया। इस दौरान किसी भी जनमित्र केन्द्र पर सम्रग आईडी, संपत्तिकर जमा व विभिन्न शासकीय योजनाओं में हितग्राहियों को लाभान्वित करने का कोई भी काम नहीं किया गया। जिसके चलते हितग्राही परेशान होते रहे।

कम्प्यूटर ऑपरेटरों के काम बंद होने की सूचना मिलते ही निगमायुक्त विनोद शर्मा ने सभी कम्प्यूटर ऑपरेटरों को बालभवन में चर्चा के लिए दोपहर में बुलाया। इस दौरान कर्मचारियों ने अपनी पीड़ा बताते हुए कहा कि क्षेत्रीय कार्यालय क्रमांक पांच पर कम्प्यूटर ऑपरेटर रवि की मारपीट कर डाली। लेकिन नोडल अधिकारी वहां नहीं पहुंचे। नोडल अधिकारी कर्मचारियों को कुत्ता बनाने, आउटसोर्स कर्मचारियों को निर्वस्त्र कर लटकाने, महिला कर्मचारी से अभद्रता से बात करते हंै। इसलिए उन्हें तत्काल प्रभाव से हटाया जाए।

इस दौरान निगमायुक्त विनोद शर्मा ने रवि की मारपीट को लेकर तुरंत पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन से बात कर जल्द कार्रवाई करने की बीत कही। चर्चा के दौरान सभी कम्प्यूटर ऑपरेटरों ने कहा कि नोडल अधिकारी को तत्काल प्रभाव से हटाकर उनकी जगह उपायुक्त जगदीश अरोरा को नोडल अधिकारी बनाया जाए।

150 कैमरों में से 70 से ज्यादा बंद, भुगतान जारी

शिकायत लेकर पहुंचे कर्मचारियों ने सुरक्षा के लिए जनमित्रों के अलावा अन्य स्थानों पर 150 सीसीटीवी कैमरों में से 70 से ज्यादा कैमरे खराब होने पर बिना वीडियो रिकार्डिंग लेकर भुगतान की भी जानकारी निगमायुक्त को दी। कम्प्यूटर ऑपरेटरों ने कहा कि कई जनमित्र केन्द्रों पर महिला कर्मचारियों के अलावा सभी के लिए शौचालय बनवाए जाएं। महिला कर्मचारियों को निगम मुख्यालय में पदस्थ कर जनमित्रों पर पुरूषों की तैनाती की जाए।

Updated : 2018-07-17T16:02:54+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top