Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > बालिका से सामूहिक दुष्कर्म, इलाज के दौरान हुई मौत

बालिका से सामूहिक दुष्कर्म, इलाज के दौरान हुई मौत

बालिका से सामूहिक दुष्कर्म, इलाज के दौरान हुई मौत
X

ग्वालियर। माता-पिता के साथ शहर में मजदूरी करने आई बालिका के साथ दो लेबर ठेकेदारों ने सामूहिक दुष्कर्म कर दिया। लगातार दो माह तक दरिंदगी करने के कारण बालिका की हालात बिगड़ जाने पर उसे भोपाल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी उपचार के दौरान मौत हो गई। भोपाल पुलिस ने कायमी कर मामला मुरार थाना भेज दिया। स्थानीय पुलिस ने आरोपियों की तलाश प्रारंभ कर दी है। मूलत: टीकमगढ़ की रहने वाली 15 वर्षीय बालिका अपने माता-पिता के साथ ग्वालियर में मजदूरी करने के लिए आई थी। मुरार थाना क्षेत्र स्थित गुलाबपुरी फक्कड़ बाबा के पास लालटिपारा में किसी तोमर के मकान में बालिका परिवार के साथ किराए से रहती थी। लेबर ठेकेदार मनोज गुर्जर और भारत गुर्जर निवासीगण फूलपुरा पारसेन का बालिका के घर आना-जाना था।

23 जुलाई को माता-पिता मजदूरी पर गए थे, तभी कमरे पर दोनों युवक पहुंच गए। जिन्होंने बालिका को कमरे पर अकेला देख उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म कर दिया। मनोज व भारत ने बालिका के साथ दो माह तक लगातार सामूहिक दुष्कर्म किया। लेबर ठेकेदार ने बालिका को धमकी दी थी कि माता-पिता को बताया तो जान से खत्म कर देंगे। बालिका घबरा गई और उसने दुष्कर्म का विरोध नहीं किया। दरिंदगी की शिकार बालिका की दुष्कर्म से हालात जब बिगडऩे लगी, तो परिजनों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया। 29 सितम्बर को परिजन बालिका को लेकर भोपाल एम्स पहुंंचे। यहां उपचार के दौरान बालिका की मौत हो गई। इस संबंध में पुलिस का कहना है कि संभवत दो लोगों द्वारा लगातार सामूहिक दुष्कर्म करने से बालिका की मौत हुई है। भोपाल में जीरो पर कायमी होने के बाद मुरार थाने में आरोपियों के खिलाफ धारा 376 (डी) (ए) 3/4 पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज कर उनकी तलाश प्रारंभ कर दी है।

इनका कहना है : बालिका के साथ मनोज व भारत गुर्जर ने दो माह तक लगातार दरिंदगी की थी। सभ्ंावत इसी कारण ही उसकी मौत हो गई, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आरोपियों पर और धाराएं बढ़ा दी जाएंगी।

सुदेश तिवारी, मुरार थाना प्रभारी

Updated : 2018-10-04T18:08:22+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top