Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > ग्वालियर : धन्यवाद शहरवासियो, ऐसे ही करें सहयोग, जीतना है कोरोना से जंग

ग्वालियर : धन्यवाद शहरवासियो, ऐसे ही करें सहयोग, जीतना है कोरोना से जंग

22 दिन में ग्वालियर के हालात बदलने वाले जिलाधीश कौशलेन्द्र सिंह से विशेष बातचीत

ग्वालियर : धन्यवाद शहरवासियो, ऐसे ही करें सहयोग, जीतना है कोरोना से जंग

ग्वालियर, न.सं.। कोरोना से पूरी दुनिया की लड़ाई में ग्वालियरवासियों ने भी पूरा सहयोग किया है। इसके लिए मैं ग्वालियर की जनता को श्रेय देते हुए धन्यवाद दूंगा। कोरोना से जंग जीतने के लिए हम सभी इसी तरह सहयोग करेंगे तो निश्चित ही हमें सफलता मिलेगी। यह बात स्वदेश से विशेष बातचीत में जिलाधीश कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कही। उल्लेखनीय है कि 22 दिन पूर्व प्रदेश की बदली हुई राजनीतिक परिस्थितियों में सिंह को विदिशा जिलाधीश से बदलकर ग्वालियर का जिलाधीश बनाया गया था।

उस समय तमाम बातें उठी थीं कि इन्हें राजनीतिक दृष्टि से विशेष कार्यों के लिए लाया गया है। किंतु श्री सिंह ने पदभार संभालने के बाद ही स्पष्ट कर दिया था कि वे भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी हैं। किन परिस्थितियों में कैसे कार्य करना होता है? यह हमें प्रशिक्षण में सिखाया जाता है, इसीलिए मुझे किसी राजनीति से न जोड़ा जाए। मेरा कार्य जनता की समस्याओं को दूर करना होगा।मैं सबसे पहले यहां के भौगोलिक एवं अन्य गतिविधियों की जानकारी लूंगा, उसके हिसाब से अपना कार्य करूंगा। श्री सिंह ने 22 दिनों में ऐसा कर भी दिखाया। क्योंकि उनके आगमन के तुरंत बाद ही फिर से राजनीतिक परिस्थितियां बदलीं और प्रदेश में कांग्रेस की बजाय भाजपा सरकार की वापसी हुई। किंतु इसी बीच विश्व व्यापी कोरोना संक्रमण ने सभी को विचलित कर दिया। जिसकी सबसे बड़ी चुनौती उनके सामने यह आई कि यह संक्रमण ग्वालियर जिले में न फैले।

सर्व प्रथम 22 मार्च को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जनता कफ्र्यू की घोषणा की। इस पर अमल कराने में नवागत जिलाधीश श्री सिंह को सफलता मिली। क्योंकि ग्वालियर में इस दौरान सबने उनका साथ दिया। इसके लिए 25 मार्च से लगातार लॉकडाउन घोषित है, जिसमें उन्हें लगातार कार्य करते रहकर न सिर्फ जनता की चिंता है, बल्कि संक्रमण को रोकना और जिनमें संक्रमण है, उनके उचित इलाज की व्यवस्था भी कराना है।

एक-एक कर दी जाएगी राहत-

जिलाधीश श्री सिंह ने कहा है कि लॉकडाउन में हमने अध्ययन के बाद यह तय किया है कि जरूरी सभी आवश्यक चीजों में एक साथ छूट देने की बजाय एक-एक चीज को अलग-अलग दिनों में छूट दी जाए, ताकि जनता की आवश्यकताएं पूरी हो सकें। हमारा प्रयास है कि सभी नागरिक घरों में ही रहें। हम उन्हें किसी भी तरह की दिक्कत नहीं आने देंगे।

मुरैना सीमा को सील कराने पहुंचे -

जैसे ही यह खबर आई कि मुरैना में शुक्रवार को 10 नए कोरोना संक्रमित पाए गए हैं तो जिलाधीश श्री सिंह ग्वालियर-मुरैना की सीमा को सील कराने खुद जा पहुंचे। उन्होंने कहा है कि हमने इस सीमा को इस तरह सील किया है कि यहां से परिंदा भी पर नहीं मार पाएगा।

जिलाधीश की मार्मिक अपील, मेरा साथ दें-

जिलाधीश श्री सिंह ने कहा है कि अब तक ग्वालियर में दो कोरोना संक्रमित पाए गए थे, जिनमें से एक की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। यह राहत भरी खबर है। फिर भी हमें किसी तरह की लापरवाही नहीं करना है। हर हाल में लोग घरों में ही रहें। उनको जो भी जरूरत है, उसकी होम डिलेवरी की व्यवस्था की गई है। लॉकडाउन में सभी लोग मेरा साथ दें।

Updated : 2020-04-05T12:36:25+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top