Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > कांग्रेस नेता ने अध्यक्ष को फिर लिया आड़े हाथ

कांग्रेस नेता ने अध्यक्ष को फिर लिया आड़े हाथ

अध्यक्ष व प्रवक्ता से पूछा, मैंने किस प्रत्याशी के लिए काम नहीं किया?

कांग्रेस नेता ने अध्यक्ष को फिर लिया आड़े हाथ
X

ग्वालियर / स्वदेश वेब डेस्क। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व महामंत्री मोहन माहेश्वरी द्वारा जिलाध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा पर चुनाव में निष्क्रियता का आरोप लगाकर इस्तीफा मांगने का मामला तूल पकड़ गया है। दोनों पक्षों के बीच चले जुबानी वाद-विवाद का मामला स्वदेश में प्रकाशित होने के बाद श्री माहेश्वरी ने पुन: एक पत्र जारी कर उनकी विश्वसनीयता पर सवाल खड़े करते हुए कहा है कि मैंने सारे प्रत्याशियों के लिए काम किया है। आप पर कोई प्रमाण है तो पेश करें। बीते रोज कांग्रेस के पूर्व जिला महामंत्री द्वारा जिलाध्यक्ष को बदलने की मांग को लेकर जारी किए गए पत्र पर जिलाध्यक्ष व प्रवक्ता द्वारा की गई टिप्पणी को लेकर उन्होंने एक और पत्र जारी किया है, जिसमें उन्होंने स्वयं को पार्टी का निष्ठावान कार्यकर्ता बताते हुए पूछा है कि मैंने आखिर किस प्रत्याशी के लिए काम नहीं किया है?

उल्लेखनीय है कि बीते रोज कांग्रेस के पूर्व जिला महामंत्री मोहन माहेश्वरी ने सोशल मीडिया पर जारी किए गए पत्र में कांग्रेस जिलाध्यक्ष डॉ. देवेन्द्र शर्मा को बदलने की मांग करते हुए उन पर विधानसभा चुनाव के दौरान पार्टी प्रत्याशियों को जिताने के लिए किसी भी तरह का कोई प्रयास नहीं किए जाने का आरोप लगाया था। इस पत्र को लेकर स्वदेश संवाददाता ने जब कांग्रेस जिलाध्यक्ष डॉ. देवेन्द्र शर्मा व जिला प्रवक्ता धर्मेन्द्र शर्मा से चर्चा की तो उन्होंने भी मोहन माहेश्वरी पर पलटवार करते हुए किसी भी प्रत्याशी के लिए काम नहीं करने की बात कही थी। इस खबर को स्वदेश ने अपने एक दिसम्बर के अंक में प्रमुखता से प्रकाशित किया था, जिसे लेकर मोहन माहेश्वरी ने शनिवार को फिर एक पत्र जारी कर कांग्रेस जिलाध्यक्ष व प्रवक्ता पर इस तरह का बयान देने पर आपत्ति जताते हुए स्वयं को कांग्रेस का बेहद पुराना कार्यकर्ता बताया है। माहेश्वरी ने इस पत्र को बाकायदा कांग्रेस कार्यालय में इन्द्राज भी करवाया है। कांग्रेस नेता मोहन माहेश्वरी के तीखे तेवर देख दूसरा पक्ष अब बचाव पक्ष में दिखाई दे रहा है। क्योंकि यह बात सभी जानते हैं कि श्री माहेश्वरी लंबे समय से कांग्रेस में है जबकि शहर अध्यक्ष ने एक बार विधानसभा चुनाव में टिकट न मिलने पर कांग्रेस अधिकृत प्रत्याशी रमेश अग्रवाल के खिलाफ सेब चुनाव चिन्ह पर निर्दलीय मैदान में उतरकर कांग्रेस को नुकसान पहुंचाया था। बहरहाल पत्र की राजनीति से कांग्रेस में काफी बवाल मचा हुआ है।

Updated : 2018-12-02T20:55:03+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top