Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > कांग्रेस ने लगाये साइंस कॉलेज में मंत्री का काम होने के आरोप, निकले बेबुनियाद

कांग्रेस ने लगाये साइंस कॉलेज में मंत्री का काम होने के आरोप, निकले बेबुनियाद

कांग्रेस प्रत्याशी के चुनाव एजेंट पहुंचे साइंस कॉलेज, मंत्री द्वारा फोटो कॉपी कराने की शंका जताई, तहसीलदार को तलाशी लेने पर नहीं मिला कुछ भी आपत्तिजनक

कांग्रेस ने लगाये साइंस कॉलेज में मंत्री का काम होने के आरोप, निकले बेबुनियाद
X

कांग्रेस ने लगाये साइंस कॉलेज में मंत्री का काम होने के आरोप , निकले बेबुनियाद

कांग्रेस प्रत्याशी के चुनाव एजेंट पहुंचे साइंस कॉलेज, मंत्री द्वारा फोटो कॉपी कराने की शंका जताई, तहसीलदार को तलाशी लेने पर नहीं मिला कुछ भी आपत्तिजनक

ग्वालियर/स्वदेश वेब डेस्क। मंगलवार की शाम शहर के साइंस कॉलेज में उस समय अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई जब ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री का चुनावी कार्य महाविद्यालय के जिम्नेशियम हॉल में किए जाने के शंका में कांग्रेस के लोग वहां पहुंच गए। लेकिन जब सूचना पर तहसीलदार वहां पहुंचे तो उन्हें जांच में कुछ भी आपत्तिजनक नहीं मिला। और कांग्रेसियों के आरोप बे बुनियाद निकले।

ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी प्रद्युम्न सिंह तोमर के चुनाव एजेंट राजेंद्र जैन को सूचना मिली थी कि उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह के निर्देश पर जिम्नेशियम हॉल में गलत तरीके से वोटिंग लिस्ट और पंपलेट का कार्य किया जा रहा है। जैसे ही कांग्रेस के पोलिंग एजेंट और उनके समर्थक वहां पहुंचे। जिम्नेशियम हॉल से फोटो कॉपियर मशीन निकाल रहे तीन कर्मचारी घबराकर इन लोगों को देख कर भाग गए। मशीन करीब 1 घंटे तक जिम्नेशियम हाल के बाहर लावारिस स्थिति में पड़ी रही । मौके पर जाकर कांग्रेस के महासचिव सुनील शर्मा भी पहुँच गए । कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मामले की जानकारी चुनाव पर्यवेक्षक और कलेक्टर अशोक वर्मा को दी तो कलेक्टर ने तहसीलदार आर एन खरे को मौके पर भेजा ।कॉलेज प्रबंधन और तहसीलदार ने कांग्रेस प्रतिनिधियों के सामने ही जिम्नेशियम हॉल के सभी कमरों की तलाशी ली। लेकिन वहां ऐसा कुछ भी नहीं मिला जो आपत्तिजनक हो । वहां ना तो वोटिंग लिस्ट मिली ना पंपलेट ।

अंत में प्रशासन ने भी माना कि कांग्रेस प्रतिनिधियों को कहीं से गलत जानकारी मिली थी। दरअसल पवैया के पास उच्च शिक्षा मंत्री का पद है। कांग्रेस प्रतिनिधियों का आरोप था कि अपने पद का दुरुपयोग करते हुए पवैया शासकीय मशीनरी का दुरुपयोग कर रहे थे। लेकिन 2 घंटे तक अफरा तफरी की स्थिति की चलती रही। बाद में मशीन को उठाकर जिम्नेशियम हॉल में वापस रखवा दिया गया।

Updated : 2018-11-23T01:14:37+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top