Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > 1 और 2 अप्रैल को रहेगा पूर्ण लॉकडाउन , होम डिलीवरी से पहुंचेगा घर-घर सामान

1 और 2 अप्रैल को रहेगा पूर्ण लॉकडाउन , होम डिलीवरी से पहुंचेगा घर-घर सामान

1 और 2 अप्रैल को रहेगा पूर्ण लॉकडाउन , होम डिलीवरी से पहुंचेगा घर-घर सामान

ग्वालियर। वैश्विक महामारी कोरोना के भारत में बढ़ते संक्रमण के कारण प्रधानमंत्री के आदेश पर लॉकडाउन घोषित किया गया है। शहर में भी जिला प्रशासन द्वारा इस लॉकडाउन का पालन कराया जा रहा है। लेकिन लोग इसमें लापरवाही बरत रहें है। जिसके कारण जिला प्रशासन द्वारा इसका पालन कराया जाना बेहद मुश्किल हो गया है। प्रशासन ने 1 और 2 अप्रैल को पूर्ण लॉकडाउन का पालन कराने का निर्णय लिया है। इसके लिए प्रशासन ने आज से ऑन लाइन कंपनियों की मदद से होम डिलेवरी कर किराना पहुंचाने का निर्णय लिया है। प्रशासन ने इसके लिए पूर्ण तैयारी कर ली है।

केंद्र सरकार ने लॉकडाउन के दौरान लोगों को आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति कराने के लिए सुबह 6 बजे से 9 बजे दुकानों को खोलने एवं क्रय- विक्रय का आदेश दिया था। लेकिन इस समयावधि में अधिक संख्या में लोग पहुंच रहे है और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी नहीं कर रहे हैं। शहर में दुकानदारों द्वारा दुकानों के बाहर गोले बनाये गए है। सबसे पहले सामान लेने की होड़ में लोग इस नियम का उललंघन कर रहे है। जिसके बाद प्रशासनिक अधिकारीयों ने ऑन लाइन कंपनियों के माध्यम से होम डिलेवरी का एक्शन प्लान तैयार किया है ताकि भीड़ शहर में ना निकले और लोग घरों में ही रहकर सोशल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन का पालन करें।

होम डिलवरी की इस योजना को फ्लोर पर उतारने के लिए कलेक्टर एवं एसपी ने ऑनलाइन कंपंनियों के प्रमुखों एवं 40 दुकानदारों को बुलाकर बैठक की। जानकारी के अनुसार जोमेटो, स्वीगी, अमेजन एवं फ्लिपकार्ट के प्रमुखों ने इस सुविधा को उपलब्ध सहमति दे दी है। जिसके बाद कल से यह सुविधा शहर में शुरू हो सकती है। बताया जा रहा है की प्रशासन ने जमाखोरी रोकने के लिए सामान बेचने की लिमिट भी तय की है।इस लिमिट के अनुआर लोग एक बार में 5 किलो दाल, 5 किलो चावल और 10 किलो आटे से अधिक खरीदारी नहीं की जा सकेगी। साथ ही सब्जी मंडियों को भी पूर्ण रूप से बंद कर दिया गया है क्योकि किरानों की दुकान के बाद सबसे ज्यादा भीड़ यहीं हो रही है। इसलिए प्रशासन ने यहां लोगों के पहुंचने पर पूरी तरह रोक लगा दी है। बताया जा रहा है की इस प्रयोग के सफल होने के बाद शेष दिनों के लिए प्रशासन सुबह 6 से 12 बजे तक दुकानों को दी जा रही छूट को बंद कर सकती है।


Updated : 2020-03-31T19:04:24+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top