Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > बिना सुनवाई बंद कर दी सीएम हेल्पलाइन की 37 हजार शिकायत

बिना सुनवाई बंद कर दी सीएम हेल्पलाइन की 37 हजार शिकायत

बिना सुनवाई बंद कर दी सीएम हेल्पलाइन की 37 हजार शिकायत
X

मध्य स्वदेश संवाददाता भोपाल

विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में इस समय परीक्षाओं का दौर चल रहा है। ऐसे में निजी कॉलेज संचालक और कॉलेज के विद्यार्थी अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए सीएम हेल्पलाइन में शिकायत कर रहे है जबकि विश्वविद्यालय प्रबंधन ने बिना सुनवाई करे 37 हजार 13 शिकायतें बंद कर दी है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक प्रदेश के जीवाजी विश्वविद्यालय ग्वालियर ने सर्वाधिक 13 हजार 31 शिकायतें यह कहते हुए बंद कर दी कि शिकायतकर्ताओं से संपर्क नहीं हो पा रहा है।

उच्च शिक्षा विभाग ने ऐसी 56 सौ और भोज मुक्त विश्वविद्यालय ने 3 हजार 71 शिकायतें बंद कर दी। रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय जबलपुर ने भी तीन हजार 90 शिकायतें बिना सुने बंद कर दी। बरकत उल्ला विवि ने ऐसी 1628 शिकायतें बंद कर दी है। विश्वविद्यालयों और उच्च शिक्षा विभाग ने कुल 94 हजार 254 सीएम हेल्पलाइन की शिकायतें बंद की है।इनमें से 48 हजार 88 शिकायतें स्पेशल क्लोज की गई है। 37 हजार 134 नान कनेक्टेड क्लोज की गई है। 5 हजार 171 शिकायतें आंशिक रुप से क्लोज की गई है। अभी भी 16 94 शिकायतें एक स्तर पर लंबित है। स्तर दो पर 870 पर लंबित है। स्तर तीन पर 238 और स्तर चार पर 359 शिकायतें लंबित है।

लापरवाही पर होगी कार्रवाई

अपर आयुक्त उच्च शिक्षा वेद प्रकाश ने सभी विश्वविद्यालयों के कुल सचिवों को निर्देश दिए है कि सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों को गुणवत्तापूर्वक टीप के साथ निराकृत करे। एल-3 स्तर की लापरवाही से एल-4 पर शिकायत पहुंची तो संबंधित अधिकारी के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी।

Updated : 2019-03-11T20:23:12+05:30

Naveen

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Next Story
Share it
Top