Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > समर्पण दिवस के रूप में मनाई गई पं. दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि

समर्पण दिवस के रूप में मनाई गई पं. दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि

समर्पण दिवस के रूप में मनाई गई पं. दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि
X

श्रद्धांजलि सभाओं के साथ हुआ विभिन्न सेवा कार्यों का आयोजन

मध्य स्वदेश संवाददाता भोपाल

राष्ट्र चिंतक एवं एकात्म मानव दर्शन के प्रणेता पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की पुण्यतिथि समर्पण दिवस के रूप में पूरे प्रदेश में मनाई गई। इस अवसर पर भाजपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पं. दीनदयाल का स्मरण करते हुए उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की। इसके साथ ही प्रदेश में किसी न किसी रूप में सेवा कार्यों का आयोजन भी किया गया। प्रदेश के सभी मंडलों में समर्पण दिवस पर विशेष कार्यक्रमों का आयोजन कर समर्पण राशि एकत्रित की गई।

राजधानी भोपाल में पुण्यतिथि पर सोमवार को प्रदेश कार्यालय पं. दीनदयाल परिसर में पार्टी के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने पं. दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस अवसर पर पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता, प्रदेश मंत्री कृष्णा गौर, जिला अध्यक्ष सुरेन्द्रनाथ सिंह, महापौर आलोक शर्मा ने पं. दीनदयाल उपाध्याय का पुण्य स्मरण करते हुए कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय ने देश ही नहीं मानव जाति के लिए एकात्म मानववाद का वैचारिक दर्शन देकर वसुधैव कुटुम्बकम की भावना को साकार किया है।

राष्ट्र और गरीबों के लिए समर्पित थे पं. उपाध्याय

ग्वालियर में पं. दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि पर सोमवार सुबह दीनदयाल नगर स्थित उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किए। इसके अलावा शहर के सभी वार्डों में भी श्रद्धांजलि कार्यक्रम आयोजित किए गए। वार्ड 21 में आयोजित कार्यक्रम में पार्टी के जिला अध्यक्ष देवेश शर्मा ने कहा कि पं. उपाध्याय का पूरा जीवन ही प्रेरक रहा है। जबलपुर में पं. दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि के अवसर पर संभागीय कार्यालय में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। इसी तरह रीवा, सागर, होशंगाबाद सहित अन्य स्थानों पर भी कई कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

Updated : 2019-02-12T00:34:18+05:30

Naveen

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Next Story
Share it
Top