Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > हनीट्रैप मामला : एसआईटी ने खुलवाया मुख्य आरोपित श्वेता जैन का लॉकर, गहने और रुपये बरामद

हनीट्रैप मामला : एसआईटी ने खुलवाया मुख्य आरोपित श्वेता जैन का लॉकर, गहने और रुपये बरामद

-नोट गिनने के लिए मंगानी पड़ी मशीन, 47 लाख रुपये की नकदी और 37 लाख के गहने बरामद

हनीट्रैप मामला : एसआईटी ने खुलवाया मुख्य आरोपित श्वेता जैन का लॉकर, गहने और रुपये बरामद

भोपाल। मध्यप्रदेश के हाईप्रोफाइल हनीट्रैप मामले की जांच में जुटी विशेष टीम (एसआईटी) ने गुरुवार को मामले की मुख्य आरोपित श्वेता विजय जैन के भोपाल स्थित आईसीआआईसीआई बैंक के लॉकर को खुलवाया, जिसमें टीम को 47 लाख रुपये की नगदी और 37 लाख रुपये के गहने बरामद हुए। टीम को नोट गिनने के लिए मशीन मंगानी पड़ी।

गौरतलब है कि इस हाईप्रोफाइल हनीट्रैप मामले में पुलिस ने पांच महिलाओं को इंदौर और भोपाल से गिरफ्तार किया था, जिनमें श्वेता विजय जैन, श्वेता स्वप्निल जैन, बरखा सोनी, आरती दयाल और मोनिका यादव शामिल हैं। पांच आरोपित फिलहाल न्यायिक हिरासत में इंदौर की जेल में हैं। मामले की मास्टरमाइंड श्वेता विजय जैन है, जिसने अन्य महिलाओं के साथ मिलकर नेताओं-अधिकारियों के आपत्तिजनक वीडियो बनाकर उनसे करोड़ों की वसूली की। इस मामले की जांच पुलिस मुख्यालय द्वारा गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) कर रही है।

एसआईटी की टीम गुरुवार को सुबह श्वेता को लेकर इंदौर से भोपाल पहुंची और यहां प्रभात चौराहा स्थित आईसीआईसीआई बैंक का लॉकर खुलवाया गया। लॉकर को देखकर एसआईटी के अधिकारियों की आंखें खुली की खुलीं रह गई, क्योंकि वह नोटों की गड्डियों और गहनों से भरा हुआ था। टीम ने लॉकर को खाली कराकर नगदी और जेवर बैंक मैनेजर के कैबिन में मंगवाए और इसके बाद नोट गिनने की मशीन से नोट गिनवाए। गिनती में नोट 47 लाख रुपये निकले जबकि गहनों की कीमत 37 लाख रुपये आंकी गई। इससे पहले भी श्वेता जैन के भोपाल स्थित एचडीएफसी बैंक का लॉकर एसआईटी की टीम खुलवा चुकी है, जिसमें 13 लाख रुपये की नगदी बरामद हुई थी। टीम ने उक्त राशि और गहने जब्त कर लिये हैं और फिलहाल आगे की कार्रवाई जारी है।

Updated : 24 Oct 2019 10:57 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top