Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > कांग्रेस में भोपाल के टिकट को लेकर एक अनार सौ बीमार

कांग्रेस में भोपाल के टिकट को लेकर एक अनार सौ बीमार

कांग्रेस में भोपाल के टिकट को लेकर एक अनार सौ बीमार
X

भोपाल/स्वदेश वेब डेस्क। विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों में तैयारियां जोरों पर हैं। हालांकि अभी तक चुनाव प्रचार जोर नहीं पकड़ पाया है, इसका कारण है कि प्रमुख राजनीतिक दल कांग्रेस और भाजपा द्वारा अपने उम्‍मीदवारों की सूची जारी नहीं करना है। दोनों राजनीतिक दलों ने अभी तक प्रत्‍याशियों की पहली सूची भी जारी नहीं की है।

कांग्रेस की पहली सूची लगभग तैयार है जिसमें करीब 100 से 125 उम्‍मीदवारों के नाम हैं। इसे कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी की अध्‍यक्षता में होने वाली 17 अक्‍टूबर की बैठक के बाद हरी झंडी जाएगी। तब इसे जारी किया जाएगा। कांग्रेस में राजधानी भोपाल की सभी सात विधानसभा सीटों के लिए मारामारी की स्‍थ‍िति है। कांग्रेस को उम्‍मीद है कि इस बार हवा बदली हुई है और सात में से आधी सीटों पर वह जीत पर परचम लहरा सकती है। शहर की एकमात्र उत्‍तर सीट ऐसी है जहां पर कांग्रेस के आरिफ अकील का लंबे समय से कब्‍जा है। मुस्लिम बाहुल्‍य इस सीट पर भाजपा उनका तिलिस्‍म नहीं तोड़ पाई है। इस बार भी इस सीट पर उनका टिकट तय है।

गोविंदपुरा-इस सीट पर सुरेश पचौरी गुट के पार्षद गिरीश शर्मा, रामबाबू शर्मा और कांग्रेस प्रवक्‍ता जेपी धनोपिया अपना दावा पेश कर रहे हैं। हुजूर-पूर्व जिला अध्‍यक्ष ग्रामीण अवनीश भार्गव, मंजीत मारण, अशोक मारण, माखमल मीणा सहित पूर्व केन्‍द्रीय मंत्री सुरेश पचौरी के समर्थक इस सीट पर दावा कर रहे हैं। इसके अलावा पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के गुट के नरेश ज्ञानचंदानी का दावा भी कमजोर नहीं कहा जा सकता। महिला कांग्रेस अध्‍यक्ष मांडवी चौहान ने भी दमदार तरीके से अपनी दावेदारी इस सीट से रखी है।

नरेला-नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह के खास महेन्‍द्र चौहान काफी समय से इस सीट के लिए लाबिंग कर रहे हैं। जिला अध्‍यक्ष कैलाश शर्मा और मनोज शर्मा तथा कांग्रेस नेत्री दीप्‍ती ने भी अपना दावा पेश किया है। मध्‍य-पूर्व विधायक पीसी शर्मा, पूर्व महापौर विभा पटेल, नासिर इस्‍लाम, गोविंद गोयल इस दावेदारी इस सीट पर है। दूसरी तरफ आरिफ मसूद भी इस सीट को लेकर संजीदा है। साउथ वेस्‍ट-पार्षद मोनू सक्‍सेना, गुड़डू चौहान, अजय सिंह के खेमे से आभा सिंह, पचौरी खेमे से अमित शर्मा, प्रवीण सक्‍सेना और पार्षद संतोष कसाना अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं।

बैरसिया-यहां पर कांग्रेस को अंतिम जीत 1998 में मिली थी। यहां से पूर्व राज्‍यसभा सांसद सुरेन्‍द्र सिंह के खेमे की जयश्री हरिकरण, पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह खेमे के राम भाई मेहर और कमलनाथ खेमे के विजय सिरवैया अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं।

Updated : 2018-10-17T00:10:20+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top