Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > मुख्यमंत्री की बड़ी घोषणा, 1 लाख पदों पर होंगी भर्तियां, 15 अगस्त से शुरू होगी प्रक्रिया

मुख्यमंत्री की बड़ी घोषणा, 1 लाख पदों पर होंगी भर्तियां, 15 अगस्त से शुरू होगी प्रक्रिया

अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद की 116वीं जयंती पर शुरू हुई पहली राज्य स्तरीय यूथ महापंचायत

मुख्यमंत्री की बड़ी घोषणा, 1 लाख पदों पर होंगी भर्तियां, 15 अगस्त से शुरू होगी प्रक्रिया
X

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भोपाल में अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद की भव्य प्रतिमा स्थापित की जाएगी। प्रतिमा के आधार में, आजाद के जन्म-स्थल भाबरा (अलीराजपुर) से लाई गई मिट्टी का उपयोग होगा और प्रतिमा स्थल को युवाओं के लिए प्रेरणा स्त्रोत के रूप में विकसित किया जाएगा। मैं युवाओं के सपनों को किसी कीमत पर मरने नहीं दूंगा। प्रदेश में एक साल में एक लाख सरकारी नौकरियों में भर्ती होगी, इसकी प्रक्रिया 15 अगस्त से आरंभ हो जाएगी। साथ ही प्रतिमाह दो लाख युवाओं को स्व-रोजगार से जोड़ा जाएगा। प्रतिमाह रोजगार दिवस मनाकर विभिन्न योजनाओं का लाभ युवाओं को उपलब्ध कराया जाएगा।

मुख्यमंत्री चौहान शनिवार को अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद की 116वीं जयंती पर भोपाल के रवीन्द्र भवन कन्वेंशन हॉल भोपाल में पहली राज्य स्तरीय यूथ महापंचायत के शुभारंभ-सत्र को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में युवाओं के सुझावों को शामिल करते हुए नई युवा नीति तैयार की जाएगी, जिसे स्वामी विवेकानंद की जयंती, युवा दिवस 12 जनवरी से लागू किया जाएगा। युवाओं की रचनात्मकता को प्रोत्साहित करने युवा पुरस्कार की स्थापना और राज्य युवा सलाहकार परिषद का गठन भी किया जाएगा। प्रदेश में प्रतिवर्ष युवा पंचायत होगी। युवाओं में देशभक्ति की भावना का संचार करने के लिए युवा पंचायत के जिला स्तरीय विजेताओं को "माँ तुझे प्रणाम'' योजना में देश की अंतरराष्ट्रीय सीमाओं पर भेजा जाएगा। सभी विभागों तथा महाविद्यालयों में युवा सेल का गठन होगा। युवा महापंचायत को यूथ फॉर आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के लिए प्लेटफार्म के रूप में विकसित किया जाएगा।

सेनानियों की स्मृति में स्मारक स्थापित

मुख्यमंत्री ने अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद के शौर्य, वीरता और समर्पण का उल्लेख करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने कई अनाम स्वतंत्रता सेनानियों के संघर्ष और बलिदान को प्रकाश में लाने का कार्य किया है। राज्य में विभिन्न स्थानों पर स्वतंत्रता सेनानियों की स्मृति में स्मारक स्थापित किए गए हैं। वसुधेव कुटुम्बकम के सिद्धांत को प्रतिपादित करने वाला भारत, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सर्वे भवन्तु सुखिन: सर्वे भवन्तु निरामय: के विचार को व्यवहारिक रूप दे रहा है। इसी क्रम में प्रधानमंत्री मोदी की पहल पर कोरोना का टीका भारतवासियों के साथ विश्व के कई गरीब देशों के नागरिकों को भी उपलब्ध कराया गया।

युवा कल का नहीं, आज का नागरिक

मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरा यह मानना है कि युवा कल का नहीं, आज का नागरिक है। यूथ महापंचायत से युवाओं को नीति-निर्माण की प्रक्रिया में जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। हमारा उद्देश्य है कि यह महापंचायत युवाओं को सरकार और समाज से जोड़ने का प्लेटफार्म बनें। प्रदेश में नए स्टार्टअप शुरू कर युवाओं ने चमत्कार किया है। राज्य की क्रिकेट टीम ने रणजी ट्राफी जीतकर अपनी प्रतिभा का परिचय दिया। प्रदेश के युवा अपनी योग्यता और क्षमता को प्रत्येक क्षेत्र में सिद्ध कर रहे हैं। युवाओं के सहयोग से हम, देश और प्रदेश के लिए क्या सर्वश्रेष्ठ कर सकते हैं, इसका रोडमेप बनाना होगा। आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश का रोडमेप युवाओं से साझा कर इस दिशा में भी उनका हरसंभव सहयोग लिया जाएगा। युवाओं के विकास और आगे बढ़ने में जो बाधाएँ हैं, उन्हें दूर करने राज्य सरकार हरंसभव प्रयास कर रही है।


Updated : 23 July 2022 1:39 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top