Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > अफसरों से ज्यादा उनकी पत्नियां होती है अफसर

अफसरों से ज्यादा उनकी पत्नियां होती है अफसर

एक और आईएएस अधिकारी ने उठाए अफसरशाही पर सवाल

अफसरों से ज्यादा उनकी पत्नियां होती है अफसर
X

विशेष संवाददाता/भोपालसोशल मीडिया पर अपनी बेबाक राय रखने के कारण चर्चा में रहने वाले एक और आईएएस अधिकारी भास्कर लक्षकार ने अब अफसरों की कार्यशैली पर सवाल उठाकर प्रशासन में हडकंप मचा दिया है।

इससे पहले भी वह गायक सोनू निगम के अजान को लेकर किए ट्विट व तीन तलाक के मुद्दे पर बड़े ही बेबाक तरीके से अपनी राय रख कर चर्चाओ में आ चुके है। वरिष्ठ आईएएस अधिकारी दीपाली रस्तोगी के बाद आईएएस अधिकारी भास्कर लक्षकार ने कार्यशैली औऱ अफसरशाही पर सवाल खड़े किए है। श्रम विभाग के उप सचिव आईएएस भास्कर लक्षकार ने फेसबुक पर अफसरशाही को लेकर कटाक्ष किया है। अफसर की इस टिप्पणी पर लोग बढ़-चढकऱ कमेंट कर रहे है और सरकार पर सवाल उठा रहे है। अफसर के इस पोस्ट के बाद हडक़ंप मच गया है, पोस्ट के कई मयाने निकाले जा रहे है।पोस्ट को देखकर तो ऐसा ही लगता है कि भले ही सरकार जीरो टॉलरेंस की बात करे लेकिन सच्चाई किसी से छुपी नही है, वो एक ना एक दिन बाहर आ ही जाती है। दरअसल, वर्ष 2010 बैच के आईएएस भास्कर लक्षकार ने फेसबुक पर एक पोस्ट की है यह पोस्ट उन्होंने प्रदेश पर हावी अफसरशाही पर की है। उन्होंने लिखा है कि वह अफसर ही क्या जो छोटी मोटी बातों पर सहमत हो जाएं।

अफसरों से ज्यादा उनकी पत्नियां अफसर पाई जाती है। इसके साथ ही उन्होंने पोस्ट के अंत में हैशटेग का इस्तेमाल करते हुए दफ्तरशाही लिखा है। वही अगली पोस्ट में उन्होंने लिखा है कि अक्सर अफ़सरों से ज़्यादा उनकी पत्नियाँ अफ़सर पाई जाती हैं। डिस्क्लेमर इसे स्त्रीद्वेषी पोस्ट ना समझा जाए। इसके साथ भी उन्होंने पोस्ट के अंत में हैशटेग का इस्तेमाल करते हुए प्रेक्षागृह लिखा है। यह पोस्ट पांच जुलाई की है।

सेवानिवृत अधिकारी ने कहा, कलयुग में राजा ही चोर

आईएएस अधिकारी सरकार के फैसलो व अफसरशाही को लेकर धीरे धीरे मुखर होते जा रहे है। इसके लिए वह सोशल मीडिया का सहारा ले रहे है। सोशल मीडिया पर उनके विचार जानने के बाद ही लोंगो को सुशासन व अफसर शाही की सही तस्वीर सामने आ रही है । अब इस कतार में रिटायर्ड अधिकारी भी शामिल हो गए है। सीनियर आईएएस अधिकारी दीपाली रस्तोगी और आईएएस अधिकारी भास्कर लक्षकार के बाद सेवानिवृत आईएएस अधिकारी डीडी अग्रवाल की फेसबुक पोस्ट भी खासी चर्चा में है। हालांकि विवाद के बाद उन्होंने पोस्ट हटा दी। अग्रवाल ने बिना किसी का उल्लेख किए फेसबुक पर श्रीमद् भागवत गीता के हवाले से कलयुग की व्याख्या की है। प्रदेश के रिटायर्ड आईएएस डी डी अग्रवाल ने फेसबुक पर लिखा है कि कलयुग की निशानी है कि राजा खुद चोर हो जाए। चारों ओर भ्रष्टाचार हो। शहर में चोरों का दबदबा हो।लोग साधु का वेश धारण करके अपनी जीविका चलाएंगे। राजनीतिक नेता प्रजा का भक्षण करें।अग्रवाल ने दूसरी पोस्ट में रामचरित्र मानस के जरिए कलयुग का चित्रण किया है। अग्रवाल की इन पोस्ट पर कई यूजर्स ने लिखा है कि वर्तमान में ऐसा ही दिखता है।हालांकि बढ़ते विवाद के चलते अधिकारी ने पोस्ट हटा दी है।

Updated : 2018-07-19T15:58:35+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top