Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > कुछ भी करो, लेकिन महिला अपराधों पर लगाम लगाओ

कुछ भी करो, लेकिन महिला अपराधों पर लगाम लगाओ

पुलिस महानिदेशक की पुलिस अधीक्षकों को दो टूक, हर स्थिति में महिलाओं के साथ अपराध करने वालों को दबोचो और सजा दिलाओ

कुछ भी करो, लेकिन महिला अपराधों पर लगाम लगाओ
X

भोपाल। प्रदेश में महिलाओं के साथ हो रहे दुष्कर्म और अत्याचारों को लेकर पुलिस महानिदेशक ने जिलों के पुलिस अधीक्षकों को दो टूक कहा है कि कुछ भी करें, लेकिन महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों पर हर स्थिति में लगाम लगाएं। ऐसे अपराधियों को पक?कर सजा भी दिलाएं। पुलिस महानिदेशक ऋ षिकुमार शुक्ला मंगलवार को जबलपुर, छिंदवाड़ा, राजगढ़, मंदसौर एवं रेलवे जबलपुर मंडल के महिला अपराधों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सभी पुलिस अधीक्षक अपने-अपने जिलों में एक टीम बनाएं, जो सिर्फ महिलाओं के साथ हो रहे अपराध, गुमशुदा बच्चियों की तलाश का ही काम करे। उन्होंने कहा कि पॉक्सो एक्ट में दर्ज अपराधों को चिन्हित अपराध मानकर त्वरित कार्रवाई करें। बलात्कार के मामले में पी?िता का जितना जल्दी हो सके मेडीकल कराएं और पुलिस थाने में अलग से डेस्क बनाकर पी?िता की समस्या को सुनें, जिससे समय पर उसकी मदद की जा सके। इसके अलावा महिला अपराध प्रवण (प्रोन) क्षेत्रों, समाजों को चिन्हांकित कर अपराध पूर्व रोकने के उपाय करें तथा नियमित रूप से इनकी समीक्षा करें। बैठक में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अन्वेष मंगलम ने कहा कि महिला प्रकोष्ठ को आवश्यक संसाधन, कर्मचारी आदि मुहैया करवाकर स्पेशलाइज्ड यूनिट के तौर पर कार्य कराया जाए।

अधिकारियों ने पेश किए आंकड़े

बैठक में जिला जबलपुर, मंदसौर, राजगढ़, छिंदवाड़ा एवं जबलपुर रेलवे के महिला अपराधों की समीक्षा की गई। सभी पुलिस अधीक्षकों ने महिला एवं बच्चियों के अपराध संबंधी आंकड़े, कारण तथा संबंधित स्थानीय विशेषताओं, समाज एवं संस्कृति के संदर्भ में तुलनात्मक आंकड़े एवं कारण बताए। झुग्गी बस्तियों, कामकाजी मजदूर अभिभावकों के काम पर जाने के कारण बच्चियों के अकेले रहने, स्थानीय कुरीतियों, इंटरनेट आदि प्रमुख कारणों के कारण ऐसे अपराध बड़े रहे हैं। राजगढ़ की पुलिस अधीक्षक सुश्री सिमाला प्रसाद ने बताया कि उन्होंने जिले में महिला अपराधों को रोकने के लिए निर्भया, अभया ग्रुप, शक्ति मोबाइल, स्कूल एवं कॉलेज में सेल्फ डिफेंस के लिए बच्चियों को प्रशिक्षण, महिला सुरक्षा केंद्र कल्याणी, अवैध शराब ब्रिकी रोकने हेतु ब्लू गैंग की शुरूआत की है। इसके अलावा क्षेत्र की कुरीतियों के कारण होने वाले अपराधों को रोकने के लिए जनप्रतिनिधियों, सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से जनसंवाद भी कर रहे हैं।

्र

जबलपुर एसपी अमित सिंह ने बताया कि महिला अपराधों को रोकने के लिए एक संयुक्त पहल: महिला सुरक्षा की दिशा में की थीम पर संकल्प सूत्र अभियान के तहत महिलाओं एवं बच्चियों की सुरक्षा के लिए कार्यक्रम आयोजित कर समाज को संकल्प दिलाया जा रहा है। साथ ही स्कूल एवं कॉलेजों में सेल्फ डिफेंस प्रशिक्षण, निर्भया, जनसंवाद, छेड़छाड़़ मुक्त जबलपुर बनाने की दिशा में कोर्ड रेड अभियान चलाए जा रहे हैं। इस दौरान महिला अपराध शाखा के एसपी शशिकांत शुक्ला, सहायक पुलिस महानिरीक्षक शालिनी दीक्षित, मंदसौर एसपी मनोज कुमार सिंह, छिंदवाड़ा एसपी अतुल सिंह सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहे।

Updated : 2018-07-25T16:10:59+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top