Top
Home > Lead Story > पुलवामा में हिजबुल के 3 आतंकी ढेर, पत्थरबाजों पर सेना की कार्रवाई में 7 की मौत

पुलवामा में हिजबुल के 3 आतंकी ढेर, पत्थरबाजों पर सेना की कार्रवाई में 7 की मौत

पुलवामा में हिजबुल के 3 आतंकी ढेर, पत्थरबाजों पर सेना की कार्रवाई में 7 की मौत
X

जम्मू। पुलवामा जिले के खारपोरा सिरनू क्षेत्र में शनिवार सुबह हुई मुठभेड़ में मारे गए तीनों आतंकियों की पहचान आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के कैडर के रूप में हुई है। उधर, मुठभेड़ के बाद पथराव कर रहे लोगों पर सेना की जवाबी कार्रवाई में सात लोगों की मौत हो गई और कम से कम 20 लोग घायल हो गए।

मुठभेड़ में मारे गए आतंकियों की पहचान ज़हूर अहमद थोकर निवासी सिरनू, अदनान हमीद भट‌्ट निवासी करीमाबाद तथा बिलाल अहमद मागरे निवासी राजपोरा के रूप में हुई है। तीनों आतंकियों में से एक आतंकी जहूर अहमद थोकर पहले एक सैनिक था। वह सेना को छोड़ कर हिजबुल मुजाहिदीन आतंकी संगठन से जुड़ गया। सुरक्षाबलों ने आतंकियों के शवों के पास से हथियार व गोला बारूद भी बरामद किया है। मुठभेड़ के बाद जिले में शुरू हुई हिंसक झड़पों में कुल प्रदर्शनकारियों की मौत हो गई है जबकि 20 प्रदर्शनकारी घायल हुए हैं।

शनिवार सुबह पुलवामा जिले के खारपोरा सिरनू क्षेत्र में शनिवार सुबह आतंकियों की मौजूदगी की पुख्ता सूचना के आधार पर सेना की 55 आरआर, एसओजी तथा सीआरपीएफ की 182/183 बटालियन की एक संयुक्त टीम ने पूरे क्षेत्र को घेर कर आतंकियों की दबिश के लिए तलाशी अभियान चलाया। इसी दौरान वहां छिपे आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी की, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने हिजबुल मुजाहिदीन आतंकी संगठन के तीन आतंकियों को मार गिराया। हालांकि इस दौरान सेना के दो जवान भी घायल हो गए। घायलों को तुरंत सेना के 92 बेस अस्पताल पहुंचाया गया। उपचार के दौरान सेना के एक जवान ने दम तोड़ दिया। एक अन्य जवान अभी उपचाराधीन है।

मुठभेड़ में तीन आतंकियों की मौत की खबर क्षेत्र में फैलते ही बड़ी संख्या में स्थानीय युवाओं ने मुठभेड़ स्थल पर पहुंचकर सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी की। प्रदर्शनकारियों की भीड़ को तितर-बितर करने के लिए सुरक्षाबलों ने आंसू गैस के गोले दागे और झड़पें शुरू हो गई। इन झड़पों में सात प्रदर्शनकारियों की मौत हो गई जबकि 20 अन्य घायल हो गए । घायलों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

हिंसक झड़पों के दौरान मारे गए प्रदर्शनकारियों की पहचान आमिर अहमद निवासी अश्मींदर पुलवामा, आबिद हुसैन लोन निवासी करीमाबाद पुलवामा, शाहबाज अली निवासी मोहगामा पुलवामा, सुहेल अहमद निवासी बिलो पुलवामा, लियाकत अहमद निवासी परी गांव पुलवामा, मुरताज अहमद निवासी तिरचु पुलवामा तथा तौसीफ अहमद मीर के रूप में हुई है।

हिंसक झड़पों को देखते हुए प्रशासन ने श्रीनगर, पुलवामा तथा शोपियां में मोबाइल इंटरनेट सेवा ठप कर दी है। साथ ही बारामूला से बनिहाल तक की रेल सेवा को एहतियातन स्थगित कर दिया गया है। क्षेत्र में अन्य आतंकियों के होने की आशंका के चलते सुरक्षाबलों का तलाशी अभियान जारी है। (हि.स.)

Updated : 2019-01-05T14:36:04+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top