Top
Home > Lead Story > ब्रिगेड रैली से भाजपा के खिलाफ विपक्ष ने भरी हुंकार

ब्रिगेड रैली से भाजपा के खिलाफ विपक्ष ने भरी हुंकार

ब्रिगेड रैली से भाजपा के खिलाफ विपक्ष ने भरी हुंकार
X

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता के ब्रिगेड परेड मैदान में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अगुवाई में आयोजित विपक्षी नेताओं के जमघट ने केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार पर तीखे प्रहार करते हुए आगामी चुनाव में इस सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान किया है।

मोदी सरकार को उखाड़ फेंकेगी विपक्षी एकता : हार्दिक पटेल

रैली को सबसे पहले गुजरात के युवा नेता हार्दिक पटेल ने संबोधित किया। उन्होंने कहा- मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि यह जनसैलाब एक ऐसी क्रांति लेकर आएगा जिसकी कल्पना नहीं की गई होगी। केंद्र की भाजपा सरकार से पूरा देश त्रस्त है और केंद्र सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए ही महा विपक्षी एकता सुनिश्चित की गई है।

विपक्ष की एकता बदलाव के संकेत : जिग्नेश मेवाणी

गुजरात के ही दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने विपक्ष की एकता को बदलाव का संकेत बताते हुए कहा कि देश में लोकतंत्र खतरे में है। किसान से लेकर नौजवान तक सभी लोग परेशान हैं। दलितों और मजदूरों का शोषण हो रहा है। इस सरकार के शासन में संविधान को खत्म करने की कोशिश हो रही है। क्षेत्रीय दलों को इन सांप्रदायिक ताकतों को जवाब देना पड़ेगा।

भाजपा के खिलाफ संयुक्त महागठबंधन का केवल एक उम्मीदवार हो : यशवंत सिन्हा

पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने एनडीए सरकार पर हमला करते हुए कहा कि हम किसी व्यक्ति के खिलाफ नहीं बल्कि एक सोच, एक विचारधारा के विरोध में यहां एकत्रित हुए हैं। सिन्हा ने कहा, पिछले 56 महीनों में देश में जो कुछ भी हुआ वह देश की लोकशाही के लिए खतरा है। ऐसी कोई संवैधानिक संस्था नहीं है जिसे केंद्र सरकार ने बर्बाद करने की कोशिश नहीं की हो। उन्होंने कहा कि इस मंच पर बैठे सभी विपक्षी नेताओं को यह सुनिश्चित करना होगा कि आने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा उम्मीदवार के सामने संयुक्त महागठबंधन का केवल एक उम्मीदवार खड़ा हो, तभी केंद्र से भाजपा सरकार को उखाड़ फेंका जाएगा।

देश को बर्बाद कर रही है मोदी और शाह की जोड़ी : अरुण शौरी

पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरुण शौरी ने भी केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर करारा हमला बोला। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी देश को बर्बाद कर रही है| संवैधानिक संस्थाओं को खत्म कर दिया गया है। सीबीआई, आरबीआई जैसी निष्पक्ष संस्थाओं पर सरकार नियंत्रण कर रही है। देशभर में अजीब डर का माहौल बना हुआ है। चारों तरफ लोग परेशान हैं। अब इस देश को बचाने के लिए विपक्ष को एक होकर साथ रहना होगा। यह एकता हमेशा सुनिश्चित रहनी चाहिए। लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को कड़ी टक्कर देने के लिए हम सबको व्यक्तिगत स्वार्थों को छोड़कर एक होना होगा ताकि केंद्र में संयुक्त गठबंधन की सरकार बन सके।

कारपोरेट सरकार चला रही है भाजपा : स्टालिन

रैली को संबोधित करते हुए द्रमुक नेता एम के स्टालिन ने कहा कि केंद्र में भारतीय जनता पार्टी कारपोरेट की सरकार चला रही है जिसमें लोगों को लूटा जा रहा है। संवैधानिक संस्थाओं को खत्म किया जा रहा है और केवल वन मैन शो की तरह प्रधानमंत्री देश को चला रहे हैं। उन्होंने पूछा कि राफेल सौदे को सरकारी एजेंसी को नहीं देकर प्राइवेट संस्था के हवाले किया गया। क्या यह भ्रष्टाचार नहीं है? स्टालिन ने सवाल उठाया कि नीरव मोदी और ललित मोदी को भगाने में सुषमा स्वराज ने मदद की, क्या यह दुर्नीति नहीं है? उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि विजय माल्या को देश से भगाने में अरुण जेटली ने मदद की। वह देश छोड़ने से पहले जेटली से मिल चुका था, क्या यह भ्रष्टाचार नहीं है? केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को इसका जवाब देना चाहिए। उन्होंने कहा कि वर्तमान में देश की सत्ता का केंद्रबिंदु नरेंद्र मोदी हैं और सभी भ्रष्टाचार का भी केंद्रबिंदु भी नरेंद्र मोदी ही हैं। (हि.स.)

Updated : 2019-02-14T14:51:14+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top