Top
Home > Lead Story > छात्र नागरिकता संशोधन कानून को समझें, राजनीतिक पार्टी कर रही हैं आपको गुमराह : अमित शाह

छात्र नागरिकता संशोधन कानून को समझें, राजनीतिक पार्टी कर रही हैं आपको गुमराह : अमित शाह

-भाजपा अध्यक्ष व देश के गृहमंत्री ने बड़हड़वा और पोड़ैयाहाट में की चुनावी सभा -सरकार अन्य जातियों का आरक्षण कम किए बिना पिछड़ी जाति के लिए आरक्षण देगी -पिछड़ी जाति के युवाओं के विकास के लिए ओबीसी आयोग बनाया जाएगा

छात्र नागरिकता संशोधन कानून को समझें, राजनीतिक पार्टी कर रही हैं आपको गुमराह : अमित शाह

रांची। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व देश के गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि छात्र नागरिकता संशोधन कानून को समझें। कानून में किसी की भी नागरिकता छीनने का प्रावधान ही नहीं है, लेकिन कांग्रेस, आम आदमी पार्टी (आप) और तृणमूल कांग्रेस जैसी पार्टियां आपको गुमराह कर रही हैं। देश के अंदर हिंसा का वातावरण पैदा कर रहे हैं। मैं कांग्रेस, आप और तृणमूल कांग्रेस से कहना चाहता हूं कि कृपया इस रास्ते से वापस आ जाइए, इस रास्ते से किसी का भला नहीं होता। मोदी सरकार ने देश की सीमाओं को सुरक्षित किया है। देश के अंदर विकास को आगे बढ़ाया है। जनभावनाओं का सम्मान किया है और झारखंड को भी विकास के रास्ते पर आगे बढ़ाया है। ये बातें अमित शाह ने सोमवार को पाकुड़ विधानसभा क्षेत्र के बड़हड़वा और गोड्डा जिले के पोड़ैयाहाट में भाजपा उम्मीदवारों के पक्ष में चुनावी सभा के दौरान कहीं।

शाह ने कहा कि सरकार अन्य जातियों का आरक्षण कम किए बिना पिछड़ी जाति के लिए आरक्षण देगी। पिछड़ी जाति के युवाओं के विकास के लिए ओबीसी आयोग बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि आज हेमंत सोरेन कांग्रेस की गोद में बैठकर मुख्यमंत्री बनने का सपना देख रहे हैं। उनसे पूछना चाहता हूं कि जब झारखंड के निर्माण के लिए गोलियां चल रही थीं, तब शासन में कौन था। हेमंत जी आपको याद न हो तो अपने पिता गुरुजी से पूछ लेना। तब कांग्रेस और राजद के लालू यादव सरकार में थे। उस वक्त शासन में कांग्रेस और राजद थी और उन युवाओं पर लाठी और गोलियां बरसाई जाती थी। आज उसी झारखंड विरोधी की गोदी में हेमंत बैठे हैं। यहां नक्सलवाद फैला था, जिसके कारण रोड, बिजली नहीं बन पाता था। पांच साल के अंदर नक्सलवाद को झारखंड की धरती से उखाड़कर जमीन के 20 फुट अंदर गाड़ दिया है। जल, जंगल, जमीन का नारा देने वाले हेमंत सोरेन से पूछना चाहता हूं कि आपके शासन के अंदर नक्सलवाद क्यों चला। साहेबगंज योजना से पूरा झारखंड और पूरा एक क्षेत्र जलमार्ग से जुड़ेगा। इससे पूरे संथाल परगना में समृद्धि आएगी। हम आने वाले दिनों में पूरे क्षेत्र में डेवलपमेंट कॉरिडोर के रूप में विकसित करेंगे। प्राचीन काल में यूरोप और एशिया में साहेबगंज से व्यापार होता था। हम व्यापार के रास्ते खोलना चाहते हैं। ये तभी हो सकता है जब मोदी जी का हाथ मजबूत होगा।

अयोध्या में चार माह में बनेगा आसमान छूता राम मंदिर

चुनावी सभा में शाह ने बाकायदा राममंदिर निर्माण का समय भी बता दिया। कहा, चार माह के अंदर आसमान को छूता हुआ प्रभु राम का भव्य मंदिर अयोध्या में बनने जा रहा है। उन्होंने कहा, अभी कुछ समय पहले सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या के लिए फैसला दिया। 100 वर्षों से दुनिया भर के भारतीयों की मांग थी कि वहां राम जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर बनना चाहिए लेकिन कांग्रेस और उसके वकील कोर्ट में इसके सामने रोड़ा अटकाते रहते थे। कांग्रेस के नेता और वकील कपिल सिब्बल कोर्ट में कहते थे कि अभी केस मत चलाइये। क्यों भाई आपके पेट में क्यों दर्द हो रहा है? राम मंदिर

समेत दूसरे तमाम मुद्दों पर घेरते हुए अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस न विकास कर सकती है, न देश को सुरक्षित कर सकती है और न ही देश की जनता की जन भावनाओं का सम्मान कर सकती है। मुझे बताओ पाकुड़ वाले वोट देने जाओगे तो क्‍या करोगे।

जबरन धर्मांतरण पर रोक लगाकर हमने अपने आदिवासियों की जिंदगी सुरक्षित की

शाह ने कहा कि झारखंड में जबरन धर्मांतरण पर रोक लगाकर हमने अपने आदिवासियों की जिंदगी सुरक्षित की। सरकार के विकास कार्यों को गिनाते हुए शाह ने कहा कि हमने स्‍वास्‍थ्‍य के क्षेत्र में एम्‍स और मेडिकल कॉलेज बनाकर गरीब आदमी की चिंता की। जबकि हेमंत राहुल बाबा के कंधे पर बैठकर सीएम बनते घूम रहे हैं। हेमंत साहिबगंज, पाकुड़ में आकर अपना हिसाब क्‍यों नहीं देते। अगर वो वोट मांगने आएं तो उनसे हिसाब मांगो। मोदी सरकार ने पांच साल में तीन लाख करोड़ रुपए झारखंड को दिए, जबकि कांग्रेस सरकार ने पांच साल में 55 हजार करोड़ रुपये दिए।

अपनों के बीच छिपे मीर जाफर जैसे गद्दारों को पहचानें

अमित शाह ने कहा कि ये वीरों की भूमि है और सबसे पहले अंग्रेजों को देश छोड़ने की किसी ने चेतावनी दी तो इसी भूमि ने दी थी। उन्होंने कहा कि संथाल हूल की लड़ाई में अंग्रेजों से लड़ते-लड़ते यहां के आदिवासियों ने बलिदान दिया और अंग्रजों के दांत खट्टे करने का काम किया। साथ ही उन्होंने मीर जाफर के कृत्यों को उजागर करते हुए कहा कि उसके जैसा कोई प्रतिनिधि चुनकर न आ जाए। अपनों के बीच छुपे हुए मीर जाफर को पहचानें। उन्‍हें ऐसा करार जवाब दें कि वे आपको बरगलाने की जुर्रत न कर सकें। शाह ने संताल के आदिवासी सेनानियों को नमन करते हुए कहा कि जैसे उन्‍होंने अंग्रेजों को खदेड़ने के लिए अपनी जान की बाजी लगा दी। वह आजादी की लड़ाई में सदैव याद रखा जाएगा। कई दशकों तक पहाड़ियों ने जुल्‍मी व्‍यवस्‍था के खिलाफ संघर्ष किया। तब मीर जाफर ने अंग्रेजों को बसाया था। ऐसी नौबत फिर न आए, इसलिए एक-एक वोट देकर भाजपा को जिताएं।

राहुल की आंखों पर इटालियन चश्मा चढ़ा है

शाह ने कहा कि राहुल गांधी और हेमंत सोरेन कहते हैं कि भाजपा कश्मीर की बात झारखंड में क्यों करती है। राहुल बाबा आपको मालूम नहीं है कि आपकी आंखों पर इटालियन चश्मा चढ़ा है। झारखंड के युवाओं ने कश्मीर को बचाने के लिए अपनी जान दी है। पूरा देश चाहता है कि कश्मीर भारत का अंग रहे और ये कहते हैं कि देश की सुरक्षा से झारखंड का क्या लेना-देना। शर्म करो सत्‍ता के लिए इतने नीचे मत गिरो। झारखंड राज्‍य की रचना तब हुई जब केंद्र में कमल फूल की सरकार बनी। पिछले पांच साल में झारखंड के अंदर मोदी जी और रघुवर जी ने विकास की गंगा बहाई।

Updated : 16 Dec 2019 1:35 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top