Top
Home > Lead Story > कश्मीर में अलग प्रधानमंत्री की मांग पर रुख स्पष्ट करें राहुल गांधी : अमित शाह

कश्मीर में अलग प्रधानमंत्री की मांग पर रुख स्पष्ट करें राहुल गांधी : अमित शाह

कश्मीर में अलग प्रधानमंत्री की मांग पर रुख स्पष्ट करें राहुल गांधी : अमित शाह

देहरादून। नेशनल कान्फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला द्वारा जम्मू एवं कश्मीर में अलग प्रधानमंत्री की मांग पर कांग्रेस की 'चुप्पी' को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को कांग्रेस की आलोचना की।

शाह ने कहा, "उमर अब्दुल्ला कहते हैं कि कश्मीर में अलग प्रधानमंत्री होना चाहिए। उनके सहयोगी पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगा रहे हैं, लेकिन कांग्रेस चुप है। मैं चाहता हूं कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी स्पष्ट करें कि वह इस मांग का समर्थन करते हैं या विरोध।"

भाजपा अध्यक्ष उत्तराखंड के टिहरी लोकसभा क्षेत्र स्थित उत्तरकाशी में एक चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने स्पष्ट किया कि भाजपा अलग प्रधानमंत्री की मांग का पुरजोर विरोध करती है। उन्होंने कहा, "हम जब तक जिंदा रहेंगे, तब तक यह मांग पूरी नहीं होने देंगे।" उन्होंने भारतीय जनसंघ (भाजपा की पूर्ववर्ती पार्टी) नेता श्यामा प्रसार मुखर्जी के 'बलिदान' की याद दिलाई जिन्होंने अनुच्छेद 370 को पुरजोर विरोध किया था। इस अनुच्छेद के तहत जम्मू एवं कश्मीर को स्वायत्तता प्रदान की गई है। शाह ने कहा, "हम श्यामा प्रसाद मुखर्जी के मार्ग का अनुसरण करते हैं और हम ऐसा नहीं होने देंगे।"

कांग्रेस के चुनाव घोषणापत्र का जिक्र करते हुए शाह ने राजद्रोह कानून को समाप्त करने के उसके वादे पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, "आप किसको बचा रहे हैं। जेएनयू (जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय) में उन्होंने (छात्र) हमारे देश को हजारों टुकड़ों में बांटने का आह्वान किया। लेकिन आप बाहर चुप रहे। क्या आप उन सभी को बचाना चाहते हैं जिनपर राजद्रोह का आरोप है।"

फरवरी में हुए पुलवामा आतंकी हमले का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास आतंकवाद का प्रतिकार करने की ताकत है। शाह ने कहा, "जब पुलवामा हमला हुआ, तब देशभर में क्षोभ और मातम का माहौल था। लेकिन हमारे प्रधानमंत्री ने आतंकियों के खिलाफ बड़े हमले को अंजाम दिया। यह हमला तब हुआ जब पाकिस्तान द्वारा सीमा की सुरक्षा कड़ी कर देने से सर्जिकल स्ट्राइक संभाव नहीं था। लेकिन हमने हवाई हमले करके आतंकी अड्डों को ध्वस्त किया।"

उन्होंने कहा कि बालाकोट हमले के बाद देशभर में खुशी का लहर दौड़ गई। शाह ने कहा, "लेकिन, हमारे राहुल गांधी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के चेहरे एक जैसे दिख रहे थे।" उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शासन में जनता कभी खुश नहीं होगी। उन्होंने लोगों से कहा, "अगर आप भारत को शक्तिशाली राष्ट्र और दुनिया में अग्रणी बनाना चाहते हैं तो सिर्फ प्रधानमंत्री मोदी ही आपकी यह आकांक्षा पूरी कर सकते हैं।" उन्होंने लोगों से उत्तराखंड की पांचों लोकसभा सीटों पर भाजपा के पक्ष में मतदान करके 2014 की पुनरावृत्ति करने की अपील की। उन्होंने कहा, "हम विकास के मार्ग पर अग्रसर हैं और यह विकास जारी रहेगा।"

Updated : 3 April 2019 3:58 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top