Top
Home > Lead Story > डॉक्टर कोरोना महामारी को लेकर फैले डर, अफवाह और भ्रांतियां दूर करें : प्रधानमंत्री

डॉक्टर कोरोना महामारी को लेकर फैले डर, अफवाह और भ्रांतियां दूर करें : प्रधानमंत्री

डॉक्टर कोरोना महामारी को लेकर फैले डर, अफवाह और भ्रांतियां दूर करें : प्रधानमंत्री
X

नईदिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को देशभर के डॉक्टरों से लोगों के मन में कोरोना महामारी को लेकर फैले डर, अफवाह और भ्रांतियां दूर करने को कहा है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि कोरोना मरीजों को अस्पताल में उपचार के साथ परामर्श भी दिया जाना चाहिए ताकि वे घबरायें नहीं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी के खिलाफ वैक्सीनेशन हमारे पास सबसे बड़ा हथियार है। डॉक्टर अपने ज्यादा से ज्यादा मरीजों को वैक्सीन की डोज दिलवाएं। सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से देशभर के डॉक्टरों से कोविड-19 से जुड़े मुद्दों और वैक्सीनेशन के संदर्भ में बातचीत करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपनी बात रख रहे थे।

टेली मेडिसिन का उपयोग -

उन्होंने कहा कि इस समय मुश्किल हालात हैं। अभी सबसे जरूरी है कि लोग घबराहट का शिकार ना हों। सही उपचार के साथ-साथ अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों का उचित परामर्श भी दिया जाना चाहिए। प्रधानमंत्री ने उन्हें यह भी सुझाव दिया कि आवश्यक न हो तो अन्य बीमारियों के इलाज के लिए टेली मेडिसन का उपयोग किया जाए।

हर दूसरे में माहमारी -

उन्होंने इस बात को रेखांकित किया कि महामारी दूसरे और तीसरे स्तर के शहरों में बड़ी तेजी से फैल रही है। इन शहरों में संसाधनों को उन्नयन किए जाने की गति में तेजी लाने की जरूरत है। उन्होंने डॉक्टरों से अपील की कि वह इन शहरों में काम कर रहे अपने साथियों को ऑनलाइन परामर्श देने और सभी जरूरी प्रोटोकॉल की जानकारी दें।

अन्य मरीजों का जाना हाल -

साथ ही उन्होंने कोविड के अलावा अन्य रोग ग्रस्त मरीजों के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं को बनाए रखने के महत्व को रेखांकित किया। इस बात को भी प्रधानमंत्री के समक्ष रखा गया कि दवाओं के गलत उपयोग के बारे में मरीजों को संवेदनशील बनाया जाना बेहद जरूरी है।


Updated : 19 April 2021 2:50 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top