Top
Home > Lead Story > अब कैदी नं 3315 लोकसभा चुनाव के लिए राजद के उम्मीदवारों का करेंगे चयन

अब कैदी नं 3315 लोकसभा चुनाव के लिए राजद के उम्मीदवारों का करेंगे चयन

अब कैदी नं 3315 लोकसभा चुनाव के लिए राजद के उम्मीदवारों का करेंगे चयन

पटना। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) में नेतृत्व का घोर अभाव है। वहां आलम यह है कि प्रत्याशी का चयन करने के लिए एक भी नेता परिवार और दल में नहीं है। यह तथाकथित महागठबंधन की महामिलावट की पराकाष्ठा ही है कि जेल में बंद कैदी नंबर 3351 (लालू प्रसाद यादव )संसद सदस्य की उम्मीदवारी पर मुहर लगाएंगे। उनका इशारा जेल में बंद लालू प्रसाद यादव की ओर था। यह टिप्पणी राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने राजद के उस बयान पर दी,जिसमें महागठबंधन में सीटों के बंटवारे और उम्मीदवारों के चयन का अधिकार लालू प्रसाद को देने की बात कही गई है।

मंत्री पांडेय ने शनिवार को कहा है कि तथाकथित महागठबंधन के भ्रष्टाचारी नेता एक ईमानदार चौकीदार को हटाने के लिए कैदी का सहारा ले रहे हैं। यही नहीं टिकट की आस लिए गठबंधन और राजद के नेता लगातार होटवार जेल की परिक्रमा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब सिर्फ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का ही काल कोठरी की सैर करना बाकी रह गया है। इस कारण अब तक महागठबंधन में सीटों का बंटवारा नहीं हो पा रहा है। इसलिए अच्छा होगा कि जितनी जल्दी हो राहुल गांधी रांची का दौरा कर आएं, ताकि आचार संहिता लगने से पहले राज्य की जनता को महागठबंधन में शामिल दलों और अपने उम्मीदवारों का पता चल सके।

महागठबंधन के हाल पर चर्चा करते हुए मंत्री पांडेय ने कहा कि चुनाव की घोषणा के पहले ही कांग्रेस के नेता न सिर्फ इस्तीफा दे रहे हैं, बल्कि बिहार नेतृत्व पर टिकट बेचने का आरोप लगा रहे हैं। सीट बंटवारा के पहले जब यह स्थिति है तो सीट बंटवारा के बाद महागठबंधन का टूटना लाजिमी है। इसलिए इसमें शामिल दलों के नेता सीट बंटवारे पर चुप्पी साधे हुए हैं। उन्होंने कहा कि बीमारी के नाम पर रिम्स में इलाज करा रहे लालू प्रसाद मोदी फोबिया से इस कदर त्रस्त हैं कि उन्हें बीमारी और जमानत से ज्यादा चिंता नरेन्द्र मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने की है। उन्होंने कहा कि लालू चिंतन गृह में अपने किये पर पश्चताप करने के बजाय शेरो-शायरी कर मसखरे मार रहे हैं।

Updated : 9 March 2019 1:50 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top