Top
Home > Lead Story > मुजफ्फरपुर मामला : जंतर-मंतर पर तेजस्वी के समर्थन में राहुल बोले - हम देश की महिलाओं के साथ हैं खड़े

मुजफ्फरपुर मामला : जंतर-मंतर पर तेजस्वी के समर्थन में राहुल बोले - हम देश की महिलाओं के साथ हैं खड़े

मुजफ्फरपुर मामला : जंतर-मंतर पर तेजस्वी के समर्थन में राहुल बोले - हम देश की महिलाओं के साथ हैं खड़े
X

दोषियों पर जल्द कार्रवाई करे नीतीश सरकार: राहुल गांधीआम लोगों के टैक्स के पैसे को संगठित अपराध करवाने में झोंक रही है बिहार सरकार: तेजस्वीतीन माह के अंदर मामले की जांच पूरी कर दोषियों को फांसी दी जाए: केजरीवाल

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मुजफ्फरपुर स्थित एक बालिका गृह में रह रही लड़कियों के साथ दुष्कर्म की घटनाओं पर शनिवार को केंद्र और बिहार सरकार को आड़े हाथों लिया। जंतर मंतर पर राजद नेता तेजस्वी यादव के आह्वान पर कैंडल मार्च एवं धरने में पहुंचे राहुल गांधी ने इस मामले के बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से जल्द से जल्द कार्रवाई की मांग की।

राहुल गांधी ने कहा कि वह यहां देश की हर महिला की सुरक्षा के लिए आए हैं, क्योंकि देश में अजीब माहौल बन रहा है, जो चिंताजनक है। कमजोर तबके पर खुलेआम आक्रमण हो रहा है। मोदी सरकार शोषित, दलित और महिलाओं का अपमान कर रही और अब बिहार की नीतीश सरकार महिलाओं का बलात्कार करवा रही है। इसका खमियाजा इसे आगामी लोकसभा चुनावों में भुगतना होगा। राहुल ने कहा कि देश की जनता ने मन बना लिया है और 2019 में वह मोदी सरकार को उखाड़ फेंकेंगी।

तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार सरकार आम लोगों के टैक्स के पैसे को संगठित अपराध करवाने में झोंक रही है। तेजस्वी ने कहा कि बिहार सरकार शुरू से ही ब्रजेश ठाकुर को बचाने में लगी है। मामले को सीबीआई को सौंपकर अपने को बचाने में लगी है। सीबीआई ने तो अभी तक कोई काम ही नहीं किया है। दूसरी तरफ समाज कल्याण विभाग की मंत्री मंजू वर्मा को बचाने में सरकार लगी हुई जबकि मंत्री का पति इस मामले में शामिल है।

इस मौके पर दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह राजनीति करने का समय नहीं है। आज हम यहां उन बच्चों की मदद करने आए हैं, जिनकी आबरू को लूटने में हमारे पैसे का दुरुपयोग किया गया। एक तरफ आरोपित को सरकार पैसा देती रही और दूसरी तरफ आरोपित उन बच्चियों को सरकार के कारिंदों को सौंपती रही।

केजरीवाल ने कहा कि हमारी चालीस छोटी-छोटी नन्हीं बालिकाओं पर अमानवीय अत्याचार किया जा रहा था उनके आरोपितों को बिहार सरकार ने जानबूझकर बचाया। एनजीओ की रिपोर्टों को राज्य सरकार नकारती रही, जो यह साफ़ दर्शाता है कई सफ़ेदपोश लोग इस कृत्य में शमिल हैं।

केजरीवाल ने मांग की कि तीन माह के अंदर इस मामले की जांच पूरी कर दोषियों को फांसी दी जाये। इसके साथ ही उन दोषियों को संरक्षण देने वालों को भी सज़ा दिया जाये। केजरीवाल ने चेतावनी देते हुए कहा कि एक निर्भया ने यूपीए को सत्ता से बेदख़ल कर दिया था। भाजपा के लोग महिलाओं के साथ अभद्र व्यवहार करते हैं, आख़िर कैसा भारत बनाना चाहते है।

इस मौके पर मंच की अध्यक्षता करते हुए राजद के नेता व राज्य सभा सांसद मनोज झा ने कहा कि हम ताली बजाने नहीं आए हैं बल्कि उन बच्चियों का समर्थन करने आए हैं जिनकी इज्जत को सरकारी मदद से लूटा गया।

इस मौके पर शरद यादव, टीएमसी सांसद दिनेश त्रिवेदी, सीपीआई के नेता डी राजा, सीपीएम के नेता सीताराम येचुरी, राजद के नेता जयप्रकाश नारायण यादव भी मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि मुजफ्फरपुर के बालिका गृह में रह रहीं 42 लड़कियों में से 34 के साथ दुष्कर्म होने की पुष्टि हो चुकी है। बलात्कार की शिकार हुई लड़कियों में से कुछ 7 से 13 साल के बीच की हैं।

Updated : 2018-08-05T02:59:24+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top