Top
Home > Lead Story > पश्चिम बंगाल: भाजपा कार्यकर्ता की हत्या, टीएमसी कार्यकर्ताओं ने दिया वारदात को अंजाम

पश्चिम बंगाल: भाजपा कार्यकर्ता की हत्या, टीएमसी कार्यकर्ताओं ने दिया वारदात को अंजाम

परिजन बोले- टीएमसी कार्यकर्ताओं ने दिया वारदात को अंजाम

पश्चिम बंगाल: भाजपा कार्यकर्ता की हत्या,  टीएमसी कार्यकर्ताओं ने दिया वारदात को अंजाम
X

कोलकाता, विशेष संवाददाता। पश्चिम बंगाल के 24 परगना जिले में शुक्रवार रात अज्ञात हमलावरों ने एक और भाजपा कार्यकर्ता को मौत के घाट उतार दिया। इस प्रकार भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या में एक और कड़ी जुड़ गई। मृतक की पहचान शक्तिपारा सरदार (45) के रूप में की गई है। इससे पहले भी पुरुलिया और मिदनापुर में दो भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई थी। देखने वाली बात तो यह है कि जिस जगह वारदात को अंजाम दिया गया वहां से कुछ ही फलांग दूर मंदिर बाजार पुलिस थाना है। पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है। परिजनों का आरोप है कि टीएमसी कार्यकर्ताओं के इशारे पर ही हत्या को अंजाम दिया गया है क्योंकि उन्हें लगातार फोन पर धमकी दी जा रही थी। जिस तरह भाजपा कार्यकर्ताओं को लगातार निशाना बनाया जा रहा है, उससे इस बात की आशंका को और बल मिल रहे हैं कि हमलावर पुलिस की शह के चलते ही इस तरह के हत्या जैसे जघन्य अपराध को अंजाम दे रहे हैं।

शक्तिपारा सरदार के बारे में लोगों का कहना है कि वे भाजपा से जुड़े ब्लॉक स्तर के जुझारू नेता थे। शुक्रवार रात उनकी अचानक अज्ञात लोगों ने उस समय घेराबंदी कर दी, जब वे अपने काम से घर लौट रहे थे। बताया जा रहा है कि सरदार अपने घर के समीप ही थे कि कुछ लोगों ने उन्हें रोककर उन पर तेज धारदार हथियार से हमला किया। हमले के बाद पड़ोसियों ने सरदार को खून से लथपथ हालत में घर के करीब पड़े हुए पाया। तत्काल उन्हें गंभीर हालत में डायमंड हार्बर जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां से उसे कोलकाता रेफर कर दिया गया लेकिन रास्ते में उसकी मौत हो गई। मंदिर बाजार पंचायत चुनाव में 15 सीटों में से 9 टीएमसी ने जीती हैं जबकि 6 सीटें वहां भाजपा के खाते में चली गई हैं। चुनाव नतीजे आने के बादसे ही वहां इस बात की आशंका जताई जा रही थी कि कुछ टीएमसी सदस्य भाजपा में शामिल हो सकते हैं। मृतक भाजपा नेता सरदार इस मामले में सक्रिय रूप से शामिल थे। मृतक के परिवार से तहरीर मिलने के बाद पुलिस ने इस संबंध में अज्ञात गुंडों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

उधर, टीएमसी ने इस मामले में किसी भी तरह की भागीदारी के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है। गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में भाजपा के लगातार अच्छे प्रदर्शन के चलते तृणमूल कांग्रेस उसे रोकने के लिए लगातार हथकंडे अपना रही है। कभी भय दिखाकर तो कभी कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतारकर। पुरुलिया के पंचायत समिति चुनाव में जीत हासिल करने वाले भाजपा के बिरंची कुमार को जान से मारने की धमकी दी जा रही है।

Updated : 2018-07-30T22:28:08+05:30
Tags:    

Naveen

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Next Story
Share it
Top