Top
Home > Lead Story > आईएसआई का एजेंट पकड़ा, पाकिस्तान भेज रहा था राज

आईएसआई का एजेंट पकड़ा, पाकिस्तान भेज रहा था राज

आईएसआई का एजेंट पकड़ा, पाकिस्तान भेज रहा था राज
X

मेरठ। बुलंदशहर में पकड़े गए आईएसआई एजेंट जाहिद बहुत ही शातिर किस्म का है। खुफिया एजेंसियों को जाहिद से पूछताछ में महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगे हैं। उसके पास मेरठ कैंट, हिंडन एयरबेस, रूड़की छावनी से जुड़े अहम व गोपनीय जानकारी है। जाहिद के जरिए खुफिया एजेंसियां आईएसआई के स्लीपर सेल को पकड़ने की कोशिश में जुटी है।

बुलंदशहर के कोतवाली देहात क्षेत्र में आईएसआई के एजेंट जाहिद को गिरफ्तार किया गया। पुलिस को उसके पास से मेरठ कैंट, हिंडन एयरबेस और रूड़की कैंट की गोपनीय जानकारी मिली है। सूत्रों ने बताया कि जाहिद के पास एक लैपटॉप और मोबाइल मिला है। इसी के जरिए वह आईएसआई को सूचनाएं भेजता था।

वेस्ट यूपी बना आईएसआई का गढ़

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई को अपने गढ़ के लिए पश्चिमी उत्तर प्रदेश का इलाका खूब भा रहा है। वेस्ट यूपी के मेरठ, बागपत, हापुड़, गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर, शामली, सहारनपुर, बिजनौर, रामपुर, मुरादाबाद आदि क्षेत्रों में आईएसआई के मंसूबों को खूब खाद-पानी मिल रहा है। यही कारण है कि यहां से आईएसआई एजेंटों के रूप में कई स्थानीय और विदेशी लोग पकड़े जा चुके हैं। अब आईएसआई की पैठ आर्मी में भी हो चुकी है। हाल ही में मेरठ में आर्मी का जवान कंचन सिंह पाकिस्तान के लिए जासूसी करने के आरोप में पकड़ा गया है। मेरठ से पाकिस्तानी नागरिक एजाज और मेरठ का आईएसआई एजेंट आसिफ पकड़ा जा चुका है।

जाहिद से पूछताछ में जुटी आईबी, एटीएस

बुलंदशहर में पकड़े गए जाहिद से यूपी एटीएस और इंटेलीजेंसी ब्यूरो के अधिकारी भी पूछताछ करने में जुटे हैं। भारत में जाहिद का संपर्क किस-किस से था और यहां पर आईएसआई के कौन-कौन एजेंट है। इसके बारे में भी जानकारी जुटाई जा रही है। आईएसआई के नेटवर्क को ध्वस्त करने के लिए खुफिया एजेंसियां जाहिद से पूछताछ कर रही है।

जवान से संबंधों का पता लगाया जा रहा

सूत्रों का कहना है कि आर्मी जवान कंचन सिंह से पूछताछ के जरिए खुफिया एजेंसियों को कई महत्वपूर्ण जानकारी हाथ लगी। चर्चा है कि जाहिद को भी आर्मी जवान के हवाले से ही पकड़ा गया है। स्थानीय खुफिया एजेंसियां भी इसका पता लगाने में जुटी हुई है।

अब तक पकड़े गए आईएसआई एजेंट

- 19 अक्तूबर, 2018 को मेरठ कैंट का जवान कंचन पाकिस्तान को सूचना भेजते पकड़ा।

- 27 नवम्बर, 2015 को एसटीएफ ने मेरठ कैंट से आईएसआई एजेंट इजाज को गिरफ्तार किया।

- 16 अगस्त, 2014 मेरठ से संदिग्ध आईएसआई एजेंट आसिफ अली गिरफ्तार।

- 10 जनवरी, 2009 सहारनपुर से आईएसआई एजेंट आमिर अहमद उर्फ भूरा गिरफ्तार।

- 12 दिसम्बर, 2008- सीआरपीएफ कैंप में आतंकी हमले से जुड़े लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी फहीम अंसारी गिरफ्तार।

21 जून, 2007 को बिजनौर में भारी मात्रा में आरडीएक्स के साथ हूजी के दो आतंकी गिरफ्तार।

23 अगस्त, 2005 लश्कर-ए-तैयबा के चीफ कोऑर्डिनेटर अबु रज्जाक मसूद का मुजफ्फरनगर कनेक्शन मिला।

10 मार्च, 2005 मेरठ से खलील हुसैन शाह नाम का आईएसआई एजेंट गिरफ्तार।

18 अप्रैल, 2004- मेरठ से रूबी बेगम नाम की आईएसआई एजेंट गिरफ्तार।

14 मार्च, 2003- मुजफ्फरनगर से जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकी सज्जाद और इत्तफाकुल गिरफ्तार।

15 जुलाई, 2002- मुजफ्फरनगर से एक आईएसआई एजेंट गिरफ्तार।

09 जुलाई, 2002- मुरादाबाद से हिज्बुल मुजाहिदीन से ताल्लुक रखने वाले पांच आतंकी गिरफ्तार।

21 जून, 2002 पाक को भारतीय सेना के गोपनीय दस्तावेज मुहैया कराने वाले एक एजेंट को पकड़ा गया।

22 मार्च, 2002- हापुड़ से लश्कर-ए-तैयबा के चार आतंकी पकड़े गए

08 जनवरी, 2002- गाजियाबाद में एक आईएसआई एजेंट को मुठभेड़ में मार गिराया गया।

1 मई, 2001 सहारनपुर से आईएसआई का एक एजेंट पकड़ा गया।

30 अप्रैल, 2001 पाकिस्तान से ट्रेंड एक आतंकी को हापुड़ के एक मदरसे से पकड़ा गया।

Updated : 2018-10-29T21:31:52+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top