Home > Lead Story > राहुल गांधी ने दे दिया संकेत, गहलोत अध्यक्ष बने तो छोड़ना होगा मुख्यमंत्री पद, अब सवाल कौन होगा राजस्थान का अगला सीएम ?

राहुल गांधी ने दे दिया संकेत, गहलोत अध्यक्ष बने तो छोड़ना होगा मुख्यमंत्री पद, अब सवाल कौन होगा राजस्थान का अगला सीएम ?

राहुल गांधी ने दे दिया संकेत, गहलोत अध्यक्ष बने तो छोड़ना होगा मुख्यमंत्री पद, अब सवाल कौन होगा राजस्थान का अगला सीएम ?
X

नईदिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष पद चुनाव को लेकर जारी सरगर्मी के बीच राहुल गांधी ने दावेदारों को बड़ा संदेश दिया है। उन्होंने साफ कहा की उदयपुर अधिवेशन में एक व्यक्ति-एक पद पर हमने जो फैसला किया था, वह कायम रहेगा। उनके इस संदेश के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के अध्यक्ष और सीएम पद साथ रखने की इच्छा पर पानी फिरना तय है।

उन्होंने अध्यक्ष के लिए नाम आने के बाद कहा था की अध्यक्ष का पद एक व्यक्ति-एक पद के दायरे में नहीं आता। ये नियम मनोनीत अध्यक्षों पर लागू होता है चयनित पर नहीं। गहलोत के इस बयान का दिग्विजय सिंह ने भी विरोध किया था। उन्होंने भी कहा था पार्टी में एक व्यक्ति-एक पद का नियम प्रभावी है। गहलोत यदि अध्यक्ष बनते है तो उन्हें सीएम पद छोड़ना होगा। इसके बाद आज पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी ने भी स्पष्ट कर दिया।

एक वैचारिक पद

राहुल ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सिर्फ एक संगठनात्मक पद नहीं है, यह एक वैचारिक पद और एक विश्वास प्रणाली है। जो कोई भी कांग्रेस अध्यक्ष बनते हैं, उन्हें याद रखना चाहिए कि वे एक ऐतिहासिक स्थान ले रहे हैं। एक ऐसा स्थान जो भारत के एक विशेष दृष्टिकोण को परिभाषित करता है। होने वाले कांग्रेस अध्यक्ष को विचारों के एक समूह, एक विश्वास प्रणाली और भारत के एक दृष्टिकोण का प्रतिनिधित्व करना होगा।

सीएम की कुर्सी छोड़नी पड़ेगी

राहुल के इस बयान से दो बातें स्पष्ट हो गई है। पहली की वे कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष नहीं बनेंगे, दूसरी यदि गहलोत अध्यक्ष का चुनाव जीत गए तो सीएम की कुर्सी छोड़नी पड़ेगी। अब सवाल आता है यदि गहलोत नहीं तो राजस्थान का अगला सीएम कौन होगा। इस सवाल के जवाब पर गहलोत का कहना है की राजस्थान में राजनीतिक हालात बेहद नाजुक है। ऐसे में हाईकमान विधायकों का मन लेकर तय करेगा की अगला सीएम कौन होगा। बता दें की कांग्रेस में सीपी जोशी और सचिन पायलट का नाम मुख्यमंत्री पद की रेस में सबसे आगे नजर आ रहा है। बताया जा रहा है की दोनों नेताओं ने आंतरिक स्तर पर अपने समर्थक विधायकों के साथ बैठक कर तैयारियां शुरू कर दी है। अब देखना होगा की गहलोत के जाने के बाद राजस्थान की राजनीति में कितना बदलाव आता है। सीएम का ताज किसके सर सजता है।

Updated : 2022-09-24T22:20:22+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top