Home > देश > #Article 370 पर गृहमंत्री ने कहा - बिल लाते वक्त मेरे मन में थी कुछ आशंकाएं

#Article 370 पर गृहमंत्री ने कहा - बिल लाते वक्त मेरे मन में थी कुछ आशंकाएं

#Article 370 पर गृहमंत्री ने कहा - बिल लाते वक्त मेरे मन में थी कुछ आशंकाएं
X

नई दिल्ली। गृह मंत्री और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने जम्मू कश्मीर को विशेषाधिकार देनेवाली धारा 370 को हटाने के बारे में अपने फैसले के ऊपर रविवार को बोलते हुए कहा कि बिल लाते समय उनके मन में कुछ आशंकाएं थी।

अमित शाह ने कहा कि ऊपरी सदन में बिल को लेकर मन में शंका थी। यही वजह थी कि सबसे पहले बिल राज्यसभा में लाने का फैसला किया था। उन्होंने कहा कि धारा 370 हटने के बाद कश्मीर में निश्चित तौर पर आतंकवाद की समाप्ति होगी। उन्होंने कहा कि जिंदगी कुशलता का ही परिणाम है।

उन्होंने कहा- "एक रूप में मैं यकीनी तौर पर यह मानता हूं कि आर्टिकल 370 बहुत पहले हट जाना चाहिए था। एक गृह मंत्री के तौर पर आर्टिकल 370 हटने के परिणाम को लेकर मन में किसी तरह का कोई कन्फ्यूजन नहीं था। मुझे विश्वास है कि इससे कश्मीर में आतंकवाद का खत्मा हो जाएगा और वह विकास के रास्ते पर चल पड़ेगा।"

अमित शाह ने चेन्नई में एक पुस्तक विमोचन के एक कार्यकम के दौरान कहा कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद सदन मे कोई ऐसा दृश्य नहीं खड़ा हुआ और यह बिल पास हो गया।

गृह मंत्री ने कहा- "मैं आज जरूर एक बात बताना चाहता हूं कि वेंकैया जी का जीवन विद्यार्थी काल से लेकर आज उपराष्ट्रपति तक पहुंचने का जीवन राजनीति में काम करने वाले सारे युवा कार्यकर्ताओं के लिए अनुकरणीय है।"

आज मैं यहां न गृह मंत्री के नाते आया हूं, न भाजपा के अध्यक्ष के नाते आया हूं। यहां पर राजनीतिक क्षेत्र में काम करते एक विद्यार्थी की नाते पूरा जीवन राजनीति में आदर्श तरीके से काम कैसे करना चाहिए इसकी प्रतिमूर्ति सिर्फ एम. वेंकैया नायडू जी के जीवन की अनुमोदना क्लोट करने आया हूं। उन्होंने कहा कि जीवन में सुनना, सीखना और समाज का नेतृत्व करना ये कैसे कर सकते हैं, इसका एक आदर्श श्री वेंकैया नायडू ने इस देश की युवा पीढ़ी के सामने रखा है।



Updated : 2019-08-11T23:08:22+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top