Top
Home > Lead Story > कश्मीर घाटी में टेंशन के बीच गृहमंत्री ने अजीत डोभाल से की मुलाकात

कश्मीर घाटी में टेंशन के बीच गृहमंत्री ने अजीत डोभाल से की मुलाकात

कश्मीर घाटी में टेंशन के बीच गृहमंत्री ने अजीत डोभाल से की मुलाकात

नई दिल्ली। कश्मीर में चल रही टेंशन के बीच केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को संसद में गृह सचिव राजीव गौबा और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के साथ मुलाकात की।

आपको बात दें कि तीन दिन से कश्मीर में चल रहे अफरा-तफरी के माहौल और अमरनाथ यात्रा रोकने के सवालों का आखिरकार जवाब मिल गया। भारतीय सेना की सतर्कता और बैट के हमलावरों का मुंहतोड़ जवाब देने से वे सब आशंकाएं निर्मूल साबित हुई हैं जो घाटी में तरह-तरह से चल रहीं थीं। उधर, दूसरे दिन भी तीर्थयात्रियों और पर्यटकों का घाटी से जाने और परेशानी का सिलसिला जारी रहा। कश्मीर गए अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों में दहशत का माहौल है। सरकार द्वारा घर लौटने के आदेश के बाद शनिवार को श्रीनगर से लेकर जम्मू तक अफरा-तफरी देखने को मिली। श्रीनगर एयरपोर्ट हो या फिर जम्मू रेलेवे स्टेशन और बस स्टेशन यात्रियों का हुजूम रहा।

वहीं गृहमंत्री अमित शाह सोमवार को राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर आरक्षण (दूसरा संशोधन) विधेयक, 2019 पेश करेंगे। यह विधेयक जम्मू और कश्मीर में 10 फीसदी आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) कोटे देने का प्रवाधान है। आतंकी हमले की आशंका के बाद जारी आदेश को देखते हुए अमरनाथ यात्रियों का यात्रा के बीच से ही लौटना दूसरे दिन भी जारी रहा। यात्रियों के लौटने से अमरनाथ बेस कैंप खाली हो गया है। बड़ी संख्या में तीर्थयात्रियों के लौटने से श्रीनगर एयरपोर्ट पर भी लोग फंसे हुए हैं। घाटी के अन्य इलाकों से भी सैलानियों और यहां पढ़ रहे छात्र-छात्राओं का लौटना शुरू हो गया है। शनिवार तड़के एनआईटी श्रीनगर से करीब 800 छात्र-छात्राओं को बस के जरिये श्रीनगर से जम्मू भेजा जा रहा है।

साथ ही श्रीनगर में मौजूद अमरनाथ यात्री और पर्यटकों को भी बसों के जरिये घाटी से जम्मू भेजा जा रहा है। पहलगाम बेस कैंप से सभी यात्रियों को वापस भेज दिया गया है, वहीं सोनमर्ग, गुलमर्ग और श्रीनगर से लगातार यात्रियों की घाटी से रवानगी जारी है। जम्मू में भगवती नगर बेस कैंप पूरी तरह से खाली करा दिया गया है। सभी यात्रियों को उनके मूल निवास जाने के लिए कहा गया है। बता दें कि अमरनाथ यात्रा के मद्देनजर सरकार को आतंकी हमले की खुफिया जानकारी मिल रही थी। इसी के बाद प्रशासन ने एहतियात के तौर पर यात्रियों को वापस लौटने का आदेश जारी किया है। .

Updated : 4 Aug 2019 7:59 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top