Top
Home > Lead Story > विमान खरीद घोटाला : वायुसेना और रक्षामंत्री अधिकारीयों सहित डीलर संजय भंडारी के विरुद्ध एफआईआर दर्ज

विमान खरीद घोटाला : वायुसेना और रक्षामंत्री अधिकारीयों सहित डीलर संजय भंडारी के विरुद्ध एफआईआर दर्ज

विमान खरीद घोटाला : वायुसेना और रक्षामंत्री अधिकारीयों सहित डीलर  संजय भंडारी के विरुद्ध एफआईआर दर्ज
X

नई दिल्ली, 22 जून। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बहनोई राबर्ट वाड्रा पर शिकंजा कसते हुए केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने उसके करीबी विवादस्पद हथियार सौदागर संजय भंडारी और भारतीय वायुसेना व रक्षा मंत्रालय के अज्ञात अधिकारियों के विरुद्ध प्राथमिकी (एफआईआर) दर्ज कराई है।

एफआईआर वर्ष 2009 में 75 पिलेट्स बेसिक प्रशिक्षण विमान की खरीद में कथित घोटाला किए जाने को लेकर की गई है।

सीबीआई ने शनिवार को नई दिल्ली में बताया कि संजय भंडारी के आवास और कार्यालय पर इस सौदे को लेकर छापे मारे गए हैं। इन विमानों की खरीद में अनियमितताएं बरते जाने और 339 करोड़ रुपये की रिश्वत दिए जाने सम्बन्धी इस मामले में सीबीआई ने स्विट्ज़रलैंड स्थित पिलेट्स एयरक्राफ्ट लिमिटेड कंपनी को भी एफआईआर में नामजद किया गया है।

एफआईआर में कहा गया है कि कंपनी को 75 पिलेट्स बेसिक प्रशिक्षण विमान की सप्लाई के लिए भारतीय वायुसेना, रक्षा मंत्रालय और भारत सरकार से कॉन्ट्रैक्ट दिलाने के लिए कई बार कंपनी द्वारा संजय भंडारी के खातों में लेनदेन हुआ है, जो उसका इस घोटाले में शामिल होने का ठोस संदेह दर्शाता है।

एफआईआर में कहा गया है कि सीबीआई को लगता है कि इस लेनदेन संबंधी घोटाले में भारतीय वायुसेना, रक्षा मंत्रालय और भारत सरकार के कई अधिकारी भी शामिल हैं। इसलिए यह भारतीय दंड संहिता की धारा-420 और 120(बी )के तहत संज्ञेय अपराध की श्रेणी में आता है। (हि.स.)

Updated : 2019-06-27T19:36:49+05:30
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top