Top
Home > Lead Story > अर्थव्यवस्था में धीमा सुधार, GDP विकास दर तीसरी तिमाही में बढक़र हुई 4.7 फीसदी

अर्थव्यवस्था में धीमा सुधार, GDP विकास दर तीसरी तिमाही में बढक़र हुई 4.7 फीसदी

अर्थव्यवस्था में धीमा सुधार, GDP विकास दर तीसरी तिमाही में बढक़र हुई 4.7 फीसदी

नई दिल्ली। भारत की आर्थिक विकास दर चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर) में बढक़र 4.7 फीसदी हो गई। इससे पहले दूसरी तिमाही में देश की आर्थिक विकास दर 4.5 फीसदी दर्ज की गई थी। सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद यानी जीडीपी वृद्धि दर पिछली तिमाही से बढक़र 4.7 फीसदी हो गई।

फिलहाल दुनियाभर में कोरोना वायरस के कारण मंदी जैसा माहौल है। ऐसे में माना जा रहा था कि इस तिमाही में जीडीपी ग्रोथ रेट में कोई बदलाव नहीं होगा। लगातार 6 तिमाही के बाद ऐसा हुआ है जब इसमें सुधार देखने को मिला है। वित्त वर्ष 2018-19 की पहली तिमाही में ग्रोथ रेट 8, दूसरी तिमाही में 7, तीसरी तिमाही में 6.6 और चौथी में 5.8 फीसदी थी। वित्त वर्ष 2019-20 की पहली तिमाही में यह दर 5 और दूसरी तिमाही में 4.5 फीसदी थी।उधर कोर इंडस्ट्री के आंकड़ों में भी कुछ सुधार देखने को मिला। ताजा आंकड़ों के अनुसार जनवरी में देश की आठ कोर इंडस्ट्री का ग्रोथ 2.2 फीसदी रहा, जो दिसंबर में 2.1 फीसदी था। उल्लेखनीय है कि आठ कोर इंडस्ट्री में कोयला, कच्चा तेल, नेचुरल गैस, रिफाइनरी उत्पाद, फर्टिलाइजर्स, स्टील, सीमेंट तथा इलेक्ट्रिसिटी शामिल हैं।

मोदी सरकार ने अर्थव्यवस्था को सुस्ती से उबारने के लिए पिछले कुछ महीनों में कई उपाय किए हैं। निवेश को बढ़ावा देने के लिए कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती के अलावा सरकारी खर्च में भी बढ़ोतरी की गई। बजट में इनकम टैक्स में भी राहत की घोषणा की गई। पिछले दिनों वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा था कि अर्थव्यवस्था में सुधार के संकेत दिखने लगे हैं।

Updated : 28 Feb 2020 2:02 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top