Top
Home > Lead Story > दिल्ली को उलझाने वाली नहीं, सुलझाने वाली राजनीति चाहिए : PM मोदी

दिल्ली को उलझाने वाली नहीं, सुलझाने वाली राजनीति चाहिए : PM मोदी

दिल्ली को उलझाने वाली नहीं, सुलझाने वाली राजनीति चाहिए : PM मोदी

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दिल्ली के द्वारका में एक जनसभा को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी की सरकार पर जमकर निशाना साधा। इस दौरान उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगे गए थे। आठ फरवरी को इन्हें सजा देने का मौका है।

उन्होंने कहा, 'सर्जिकल और एयर स्ट्राइक जैसे फैसलों के बाद इस तरह के बयान आये, उस समय यहां की सरकार में बैठे लोगों ने कैसे बयान दिए थे, वो आपको याद है न? उसके विरूद्ध हर दिल्लीवासी गुस्सा है न? उनको सजा मिलनी चाहिए या नहीं? ये काम आप सभी को 8 फरवरी को करना है।'

साथ ही उन्होंने कहा कि दिल्ली में ऐसी बेदर्द सरकार बैठी है जिसे दिल्ली वालों की जिंदगी की परवाह नहीं है। दिल्ली के बेघर लोगों का क्या अपराध है कि उन्हें पीएम आवास योजना के तहत अपना घर नहीं मिलता? केंद्र सरकार की कई योजनाओं को लागू करने से दिल्ली सरकार ने मना कर दिया है। दिल्ली के गरीबों का क्या गुनाह है, जो उन्हें 5 लाख रुपये तक मुफ्त इलाज देने वाली आयुष्मान भारत योजना का लाभ नहीं मिलता?

नागरिकता संशोधन कानून बनने के बाद देश और दिल्ली के लोग पहले दिन से देख रहे हैं कि कैसे इन लोगों द्वारा अफवाहें फैलाई जा रही हैं, झूठ बोला जा रहा है। दिल्ली की जनता सब कुछ देख रही है, सब कुछ समझ रही है।

अगर बहानों और कोसने से ही काम चलता, तो क्या हमारी सरकार कड़े और बड़े फैसले ले पाती? 5 साल में हमने जो एक के बाद एक, मजबूत कदम उठाए हैं, वो उठा पाते क्या? भाजपा ने इच्छाशक्ति दिखाई और आज 40 लाख दिल्लीवालों को अपने मकान और अपनी दुकान का हक़ मिल गया।

दिल्ली की 1,700 से अधिक अवैध कॉलोनियों में 40 लाख लोगों को घरों के अधिकार का विषय दिल्ली कैसे भूल सकता है? यहां जो शासन में हैं, वो तो इस कोशिश में थे कि किसी तरह और एक दो साल के लिए ये मामला टाल दिया जाए।

दिल्ली और सुंदर बने, यहां के लोगों को सुरक्षित और स्वच्छ वातावरण मिले, इसके लिए भी हम प्रयास कर रहे हैं। यमुना को स्वच्छ बनाने से जुड़ी परियोजनाओं के साथ ही हमारी सरकार यमुना रिवर फ्रंट पर भी काम कर रही है।

इस समय रैपिड रेल सिस्टम पर भी तेजी से काम चल रहा है, दिल्ली से मेरठ आने जाने में कम से कम समय लगे, इस दिशा में भी हम काम कर रहे हैं। इस सिस्टम के लिए इस बार बजट में करीब 2.5 हजार करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है।

दिल्ली में ईस्टर्न और वेस्टर्न पेरिफिरल एक्सप्रेसवे का काम कितने वर्षों से चल रहा था? लोग इंतजार करते-करते थक गए थे कि न जाने कब इनका काम पूरा होगा। हमारी सरकार बनने के बाद, बरसों से अटका हुआ ये काम पूरा हुआ।

Updated : 4 Feb 2020 11:45 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top