Top
Home > Lead Story > कोरोना वायरस से जल्द मिलेगी राहत, वैक्सीन बनाने का नेतृत्व कर रहे हैं भारतीय मूल के वैज्ञानिक

कोरोना वायरस से जल्द मिलेगी राहत, वैक्सीन बनाने का नेतृत्व कर रहे हैं भारतीय मूल के वैज्ञानिक

कोरोना वायरस से जल्द मिलेगी राहत, वैक्सीन बनाने का नेतृत्व कर रहे हैं भारतीय मूल के वैज्ञानिक

नई दिल्ली। दुनियाभर में कहर मचा रहे कोरोना वायरस से लड़ने के लिए वैक्सीन बनाने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए लैब में पहले बैच का नेतृत्व आस्ट्रेलिया में भारतीय मूल के वैज्ञानिक एस एस वासन कर रहे हैं। इस वायरस से अब तक चीन में 600 से अधिक लोगों के मरने की खबर है जबकि 30,000 से अधिक लोग संक्रमित पाए गए हैं।

चीन के स्वास्थ अधिकारियों ने शुक्रवार को जानकारी दी कि कोरोना वायरस से गुरुवार तो 69 अन्य की मौत के बाद मरने वालों की संख्या 636 हो चुकी है। हुबई में गुरुवार को 2447 नए मामले दर्ज किए गए। केवल मध्य चीन प्रांत में 22,112 मामले सामने आए हैं। सीएसआईआरओ में हाई सेक्योरिटी लैब में वायरस के पहले बैच को डेवलप किया गया।

सीएसआईआरओ ने बयान जारी कर बताया कि इस रिसर्च का उद्देश्य कोरोना वायरस को ठीक से समझना है कि ये किस तरह डेवलप होता है और किस तरह सांस की नली पर असर डालता है।

दरअसल, कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है लेकिन इनमें से केवल छह विषाणु ही लोगों को संक्रमित करते हैं। इसके सामान्य प्रभावों के चलते सर्दी-जुकाम होता है लेकिन 'सिवीयर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (सार्स)' ऐसा कोरोनावायरस है जिसके प्रकोप से 2002-03 में चीन और हांगकांग में करीब 650 लोगों की मौत हो गई थी।

Updated : 2020-02-08T14:46:02+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top