Top
Home > Lead Story > अलगाववादियों के समर्थन में है कांग्रेस का घोषणापत्र : निर्मला सीतारमण

अलगाववादियों के समर्थन में है कांग्रेस का घोषणापत्र : निर्मला सीतारमण

अलगाववादियों के समर्थन में है कांग्रेस का घोषणापत्र : निर्मला सीतारमण
X

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस के घोषणापत्र को लेकर हमला जारी रखते हुए आज कहा कि विपक्षी दल सुरक्षा बलों का मनोबल तोड़ने और अलगावावादियों माओवादियों को बढ़ावा देने का काम कर रहे हैं।

रक्षा मंत्री व भाजपा नेता निर्मला सीतारमण ने पार्टी मुख्यालय में एक प्रेस वार्ता में कांग्रेस के घोषणापत्र की तीखी आलोचना करते हुए कई सवाल खड़े किए। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस के घोषणापत्र में जम्मू कश्मीर और देश के अन्य हिस्सों में अलगाववादियों को बढ़ावा देने का काम किया गया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के घोषणापत्र में सेना के मनोबल को नीचा दिखाने की कोशिश की गई है और अलगाववादी नेताओं और आतंकियों को बचाने का काम किया गया है। आर्म्ड फ़ोर्स स्पेशल पावर एक्ट (एएफएसपीए) के तहत सेना को जो ताकत मिली है, उसे हटाने की बात कांग्रेस के घोषणापत्र में कही गई है। उन्होंने सवाल किया कि क्या कांग्रेस सेना और जिला प्रशासन का मनोबल तोड़ना चाहती है।

रक्षामंत्री ने कहा कि जम्मू कश्मीर में हमारे जवान किस माहौल में काम करते हैं, यह सब कोई जानता है । इसके बावजूद, कांग्रेस पार्टी जवानों के मनोबल को तोड़ने का प्रयास कर रही है । उन्होंने कहा कि एक तरफ कांग्रेस अर्द्धसैनिक बलों के मारे गए जवानों को शहीद का दर्जा देने की बात कर रही है वहीं उनको जो ताकत मिली है उसे हटाने की बात की कर रही है। सीतारमन ने कहा कि कांग्रेस का घोषणापत्र देशद्रोही और अलगाववादियों को समर्थन देने के लिए जारी किया गया है।

इससे पूर्व गत मंगलवार को केंद्रीय वित्त मंत्री वरिष्ठ नेता अरुण जेटली ने कांग्रेस के चुनाव घोषणापत्र को देश को तोड़ने का दस्तावेज करार देते हुए कहा था कि यह जेहादियों और माओवादियों पर मेहरबान है तथा इसमें देशद्रोह को अपराध नहीं माना गया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस देश की एकता और अखंडता को बनाए रखने के लिए जान की बाजी लगाने वाले सुरक्षा बल के जवानों को अपराधियों की श्रेणी में खड़ा करने की तैयारी में है।

उन्होंने कहा था कि कांग्रेस के घोषणा पत्र पर यदि अमल हुआ तो देशद्रोह करना अपराध नहीं माना जाएगा। समाज व देश के प्रति गंभीर अपराध करने वाले लोगों के लिए जमानत हासिल करना अधिकार बन जाएगा। दूसरी ओर सुरक्षा बलों को झूठे आरोपों में फंसाकर जेल भेजने का रास्ता खुल जाएगा।

भाजपा नेता ने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि यह घोषणापत्र जेहादियों और माओवादियों की सलाह पर तैयार किया गया है। यह पार्टी जेहादियों और माओवादियों के चंगुल में है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जो पार्टी इस तरह की घोषणा करती है, वह एक भी वोट की हकदार नहीं हैं। जेटली ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने जो खतरनाक वादे किए हैं, देश की जनता उन्हें यह अवसर ही नहीं देगी।

Updated : 3 April 2019 11:45 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top