Top
Home > Lead Story > कांग्रेस ने असम की जनता को जरूरी सुविधाओं से महरूम रखा, अब उनका चौकीदार ऐसा नही होने देगा : प्रधानमंत्री मोदी

कांग्रेस ने असम की जनता को जरूरी सुविधाओं से महरूम रखा, अब उनका चौकीदार ऐसा नही होने देगा : प्रधानमंत्री मोदी

कांग्रेस ने असम की जनता को जरूरी सुविधाओं से महरूम रखा, अब उनका चौकीदार ऐसा नही होने देगा : प्रधानमंत्री मोदी
X

गुवाहाटी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर असम समझोते को तीन दशकों तक लटकाए रखकर राज्य की जनता को जरूरी सुविधाओं से वंचित रखने और वोट बैंक की खातिर घुसपैठियो को बदावा देने का आरोप लगाते हुए कहा किअब उनका यह चौकीदार ऐसा नही होने देगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी अब झूठ, फरेब और प्रपंच का हथियार लेकर इस चौकीदार को हटाने में जुटी हैं। लेकिन यह चौकीदार पूरी तरह से मजबूती के साथ खड़ा है।यह चुनाव 2019 में असम के साथ ही देश की दिशा को तय करेगा अत: राज्यवासी एनडीए के उम्मीदवारों को जिताकर आप मेरा हाथ मजबूत करें।

ये बातें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कामरूप जिले के केंदुकोना में गुरुवार को एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही। प्रधानमंत्री ने मंगलदै के वर्तमान सांसद रमेन डेका व गुवाहाटी की सांसद विजया चक्रवर्ती की सराहना की। उन्होंने कहा कि ये दोनों भाजपा के श्रेष्ठ कार्यकर्ता हैं और उनका जीवन प्ररेणा देने वाला है।उल्लेखनीय है कि भाजपा ने इन दोनों सांसदों को इस बार के चुनाव में टिकट नहीं दिया है।

उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि देश की सुरक्षा को जो पार्टी दाव पर लगा सकती है वह किसी की भी सुरक्षा को दाव पर लगा सकती है। यहां की जनता को भली भांति याद है कि असम के लोगों को अपनी सुरक्षा और पहचान के लिए लड़ना पड़ा था। कांग्रेस के परिवार और गुवाहाटी में उनके राजदरबारी सत्ता में बने रहे इसके लिए घुसपैठियों का वोट बैंक बनाने की साजिश कर रहे हैं। इन लोगों ने बांग्लादेश की सीमा के निर्णय को जानबूझकर के लटकाए रखा। उसको सुलझाने की कोशिश नहीं की। घुसपैठ होती रही, असम का नुकसान होता रहा और इसका फायदा कांग्रेस उठाती रही।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस चाहती तो 1971 के युद्ध के बाद असम से लेकर कश्मीर तक की समस्याओं का समाधान कर सकती थी। लेकिन, जम्मू कश्मीर भी चलता रहा और असम की स्थिति भी गंभीर होती गई और कांग्रेस देखती रही। लेकिन जब जनता का चौकीदार कांग्रेस की करतूतों को सुधारने का काम कर रहा है। असम के हितों की रक्षा, असम की अस्मिता की सुरक्षा के लिए हमने प्रभावी कदम उठाए हैं। बांग्लादेश के साथ सीमा समझौता हमारी ही सरकार ने पूरा किया है। इससे सीमा पर फेंसिंग का काम आसान हुआ है। जो पहले से ही घुसपैठ कर चुके हैं, ऐसे लोगों की पहचान के लिए प्रक्रिया जारी है। बहुत ही जल्द यह काम पूरा किया जाएगा। हमारी पूरी कोशिश है कि कोई भी भारतीय इससे छूटे ना और किसी भी घुसपैठिए का नाम एनआरसी में घुसे ना।

मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने असम समझौते को तीन दशकों तक लटकाए रखा। उसको लागू करने के लिए हम निरंतर काम कर रहे हैं। समझौते का अनुच्छेद छह लागू करने के लिए गंभीर कोशिश की जा रही है। असम समझौते के अनुरूप ही हमारी सरकार छह समुदायों को जनजाति का दर्जा देने पर भी काम कर रही है। इसके लिए राज्यसभा में विधेयक लाने का काम भी हमारी सरकार ने किया है। उन्होंने कहा कि छह समुदायों को जनजाति का दर्जा देते समय यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि असम की वर्तमान जनजातियों के अधिकारों की पूरी तरह से रक्षा होगी, यह मेरा वादा है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने वोट के लिए घुसपैठ को तो बढ़ावा दिया। असम के लोगों को वर्षों तक जरूरी सुविधाओं से वंचित रखा। ब्रह्मपुत्र पर कई साल से बन रहे बोगीबील ब्रिज को पूरा करने का काम भी हमारी सरकार ने किया है। सिर्फ लटके हुए प्रोजेक्ट ही नहीं बल्कि हम असम को नए प्रोजेक्ट से भी ताकत दे रहे हैं। ब्रह्मपुत्र पर पांच नए पुल बन रहे हैं। कांग्रेस को वोट बैंक पक्का करने और भ्रष्टाचार से फुर्सत ही नहीं है। उन्होंने कहा कि वे भ्रष्टाचार नहीं करेंगे, लूटेंगे नहीं तो चुनाव कैसे जीतेंगे। भ्रष्टाचार को ही शिष्टाचार बना लिया है।

कांग्रेस का पूरा नामदार परिवार आज जमानत पर है। अभी पुराने केस चल ही रहे हैं कि एक नया घोटाला सामने आ गया है। दिल्ली के तुगलक रोड चुनाव घोटाला। तुगलक रोड स्थित एक बंगले पर सैकड़ों करोड़ों रुपए का खेल खेला गया। उनके पास से बोरे भर-भरकर नोट मिल रहे हैं। काला धन को पकड़ने के लिए मैं जुटा हुआ हूं। वहीं नामदार लोग चौकीदार को चोर कह रहे हैं। लेकिन इनके पास से सबूत मिल गया है कि किस तरह से लूट हो रही है। यह पैसा जो जुटाया गया था, वह गरीब बच्चों और गर्भवती माताओं को पोषक आहार देने के लिए भारत सरकार ने भेजा था, उसको इन्होंने हड़प लिया। गरीबों का निवाला छीन कर नामदार की पार्टी चुनाव लड़ रही है। पकड़े जाने पर तिलमिलाए नामदार और उनके साथी चौकीदार को चोर कह रहे हैं। अगर चोर कोई और है तो करोड़ों-अरबों रुपए उनके घर से कैसे निकल रहे हैं। अगर गुनाहगार कोई और है तो फिर नामदार लोग क्यों जमानत पर चल रहे हैं। झूठ, फरेब और प्रपंच का हथियार लेकर ये चौकीदार को हटाने में जुटे हैं। लेकिन आप के आशीर्वाद से यह चौकीदार पूरी तरह से मजबूती के साथ खड़ा है।

मोदी ने कहा कि आपके सहयोग से ही मैं पूर्वोत्तर को विकसित करने के लिए सार्थक कदम उठा पाया हूं। आपके 2014 के प्यार ने गांव और गरीब के जीवन को बदलने में अहम भूमिका निभाई है। आपके वोट ने असम के डेढ़ करोड़ गरीब परिवारों के बैंक में खाते खोले हैं। यह आपकी बदौलत हुआ है। यह मैंने नहीं किया है। बहनों को खुले में शौच से मुक्ति के लिए टॉयलेट बनाना, गरीब माताओं-बहनों को गैस के चूल्हे पर खाना बनाने की सुविधा मुहैया करना, सभी लोगों तक बिजली पहुंचना, पांच लाख रुपये की स्वास्थ्य सेवाएं आदि यह सब आपके आशीर्वाद से ही हुआ है। असम के 24 लाख किसानों के खाते में हर वर्ष करीब 15 करोड़ रुपए जमा कराने का काम भी आपकी मदद से ही हुआ है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 2019 में असम के साथ ही देश की दिशा को यह चुनाव तय करेगा। इस बार आपका वोट असम के हर किसान को पीएम किसान सम्मान योजना से जुड़ेगा। हर छोटे किसान परिवार को पेंशन देने का भी काम करेगा। उन्होंने कहा कि आपका वोट यह भी तय करेगा कि भारत की रक्षा और सुरक्षा नीति क्या हो। क्या हम डरे, सहमे रहें, या अपनी सुरक्षा के लिए हर जरूरी कदम उठाएं, यह आपको तय करना है।

मोदी ने कहा कि सराईघाट यहां से ज्यादा दूर नहीं है, लचित बरफूकन सहित असम के अनेक योद्धाओं की भूमि है। क्या देश की रक्षा से समझौता हो सकता है, क्या आतंकवाद से समझौता हो सकता है, क्या नक्सलवाद और माओवाद से समझौता हो सकता है। लेकिन हमारे विरोधी दल भारत को उस नीति पर चलाना चाहते हैं जो देश को और कमजोर करेगी। भारत पाकिस्तान में छुपे आतंकियों को घर में घुसकर मारेगा, यह फैसला हमारी सरकार ने किया है। हमारे सपूतों ने वीरता से अपना पराक्रम दिखाया है। लेकिन कांग्रेस कहती है सबूत दो। यहां के अनेक सपूत हिंसा से प्रभावित प्रभावित क्षेत्रों में लड़ रहे हैं, मां भारती की रक्षा कर रहे हैं। कांग्रेस कहती है कि उनको मिली सुरक्षा, उनका अधिकार वापस ले लो। कांग्रेस इसी मुद्दे पर आपसे वोट मांग रही है। अब आपको तय करना है कि हमारे सपूतों की सुरक्षा हटेगी या फिर कांग्रेस की वोट बैंक पॉलिटिक्स चलेगी, निर्णय आपको करना है। ऐसी कांग्रेस को सजा देनी चाहिए कि नहीं।

मोदी ने कहा कि माता कामाख्या के चरणों में आने का मुझे सौभाग्य मिला, यह मेरे लिए बहुत ही सौभाग्य का विषय है। प्रधानमंत्री ने मंगलदै और गुवाहाटी लोकसभा क्षेत्र के मतदाताओं को रंगाली बिहू की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि बिहू हमारी समृद्ध परंपरा और सांस्कृतिक विरासत का प्रतीक है। इसे भारत रत्न डॉ भूपेन हजारिका ने समृद्ध किया है। असम हमारे लिए घर की तरह हो चुका है। बीते 5 वर्षों में मैं आपके बीच अनेकों बार आया हूं। यह आप लोगों का प्यार है जो मुझे यहां पर बार-बार खींच लाता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्यवासी एनडीए के उम्मीदवारों को जीता कर आप मेरा हाथ मजबूत करेंगे, ऐसा मेरा विश्वास है। आपका एक-एक वोट सीधा-सीधा मोदी के खाते में जाएगा। ज्ञात हो कि इस मौके पर मंगलदै लोकसभा के उम्मीदवार दिलीप सैकिया और गुवाहाटी की उम्मीदवार क्वीन ओझा, नेडा व असम सरकार के प्रभावशाली मंत्री डॉ हिमंत विश्वशर्मा समेत दोनों लोकसभा क्षेत्रों के वर्तमान सांसद तथा असम गण परिषद के काफी संख्या में नेता मौजूद थे।

Updated : 11 April 2019 1:25 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top