Top
Home > Lead Story > अरुण जेटली बोले - देश को नहीं चाहिए एेसी सरकार जिसका मुखिया 'बेचारा' हो

अरुण जेटली बोले - देश को नहीं चाहिए एेसी सरकार जिसका मुखिया 'बेचारा' हो

अरुण जेटली बोले - देश को नहीं चाहिए एेसी सरकार जिसका मुखिया बेचारा हो
X

नई दिल्ली। केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने सोमवार को कहा कि अगले चुनाव में महागठबंधन बनाकर लड़ने वाली पार्टियों के मुखिया का भी हाल कर्नाटक के मुख्यमंत्री जैसा ही होगा, जिसे रोते हुए कहना पड़ रहा है कि वह असहाय हैं।

जेटली ने सोमवार को कर्नाटक में जनता दल सेक्युलर और कांग्रेस गठबंधन की सरकार के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी का उदाहरण देते हुए कहा कि देश को ऐसी सरकार नहीं चाहिए जिसका मुखिया 'बेचारा' हो। उल्लेखनीय है कि हाल ही में एक कार्यक्रम के दौरान कुमारस्वामी अपने संबोधन के दौरान रो पड़े और उन्होंने गठबंधन सरकार चलाने को 'जहर पीने' जैसा बताया।

जेटली ने कहा कि बिना किसी विचारधारा का अवसरवादी गठबंधन हमेशा विरोधाभासों में फंस रहता है। उनका एकमात्र लक्ष्य अपना अस्तित्व बचाए रखना होता न कि सेवा करना। अगर ऐसे गठबंधन के प्रधानमंत्री को कैमरे पर आकर रोना पड़े और केवल यही इच्छा करे कि कैसे अपना पद त्याग दूं, तो यह संप्रग-दो सरकार के नीतिगत असमर्थता की स्थिति से भी बदतर होगी। उन्होंने कहा कि देश को कर्नाटक की तरह 'ट्रेजेडी किंग' मुख्यमंत्री नहीं चाहिए।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस कर्नाटक में वैसा ही कर रही है जैसा उसने चौधरी चरण सिंह, चंद्रशेखर, एचडी देवगौड़ा और आईके गुजराल के साथ किया था। यह किसी विचारधारा के अवसरवादी गठबंधन का ही नतीजा है। जेटली ने कहा, ''यदि दो पार्टियों के गठबंधन का यह हाल है, तो बिना किसी समान विचारधारा की सत्ता के लिए लड़ने वाली पार्टियां देश के लिए क्या कर पाएंगी?भारत को एक मजबूत और एकजुट सरकार की जरूरत है। सरकार सहयोगी या क्षेत्रों के अनुचित दबाव के बावजूद काम कर सके।'' उन्होंने कहा कि अगर सहयोगियों के दवाब के आगे झुककर ऐसी सरकार को आतंक के खिलाफ लड़ाई से समझौता करना पड़े तो वह देश पर बोझ और एक अभिशाप की तरह होगी।

Updated : 2018-07-17T02:59:12+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top