Top
Home > Lead Story > अनुच्छेद 35ए : जेआरएल का कश्मीर बंद, जनजीवन अस्त व्यस्त

अनुच्छेद 35ए : जेआरएल का कश्मीर बंद, जनजीवन अस्त व्यस्त

अनुच्छेद 35ए : जेआरएल का कश्मीर बंद, जनजीवन अस्त व्यस्त
X

जम्मू। अनुच्छेद 35ए को लेकर अलगाववादी संगठनों के साझा मंच ज्वाइंट रजिस्टेंस लीडरशिप (जेआरएल) के गुरूवार को कश्मीर बंद के आह्वान के कारण कश्मीर घाटी में जन-जीवन अस्त व्यस्त होकर रह गया है। गुरूवार को घाटी बंद के दौरान सभी दुकानें व्यापारिक प्रतिष्ठान, शिक्षा संस्थान बंद रहे। सड़कों पर यातायात भी बंद रहा। बंद को देखते हुए कश्मीर विश्वविद्यालय ने गुरूवार तथा शुक्रवार को होने वाली सभी परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं।

कश्मीर बंद को देखते हुए प्रशासन ने श्रीनगर के छह पुलिस थानों जिनमें नौहाटा, खानयार, रैनवारी, एमआरगुंज, सफा कदल तथा महराज गंज में निषेधाज्ञा लागू की गई है। जबकि करालखुद तथा मैसूमा में आंशिक प्रतिबंध लागू किए गए हैं। यह प्रतिबंध बंद के दौरान हिंसक प्रदर्शनों को रोकने के लिए लगाए गए हैं। इस दौरान प्रतिबंधित क्षेत्रों तथा श्रीनगर के दूसरे संवेदनशील क्षेत्रों में बड़ी संख्या में पुलिस तथा पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों को तैनात किया गया है। इसी बीच बंद को देखते हुए प्रशासन ने दो दिन के लिए बारामूला से बनिहाल तक की रेल सेवा को स्थगित रखा है। इस दौरान हुरियत चेयरमैन मीरवाइज उमर फारूक को नज़रबंद किया गया है।

अनुच्छेद 35ए पर 31 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट में होने वाली सुनवाई को देखते हुए जेआरएल ने दो दिन यानि गुरूवार तथा शुक्रवार को कश्मीर बंद का आह्वान किया है। इस बीच जम्मू कश्मीर प्रशासन ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी देकर कल की सुनवाई टालने की मांग की है|

Updated : 2018-08-30T19:38:20+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top