Top
Home > विदेश > नई बैलिस्टिक मिसाइलों के निर्माण पर काम कर रहा : उत्तर कोरिया

नई बैलिस्टिक मिसाइलों के निर्माण पर काम कर रहा : उत्तर कोरिया

नई बैलिस्टिक मिसाइलों के निर्माण पर काम कर रहा : उत्तर कोरिया
X

प्योंगयांग। अमरीका के साथ संबंधों में सुधार होने के बीच उत्तर कोरिया नई बैलिस्टिक मिसाइलों के निर्माण पर काम कर रहा है। यह दावा अमरीकी मीडिया ने किया है।

समाचार पत्र वाशिंगटन पोस्ट ने अमरीकी अधिकारियों के हवाले से बताया है कि जासूसी उपग्रहों ने उत्तर कोरिया के बैलिस्टिक मिसाइल निर्माण स्थल पर गतिविधियां देखी हैं। उधर, समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने भी एक अधिकारी के हवाले से कहा है कि अभी यह साफ नहीं है कि यह मिशन कहां तक पहुंचा है।

विदित हो कि अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के बीच इस साल जून में ऐतिहासिक शिखर बैठक हुई थी। इसके बाद दोनों नेताओं ने कहा था कि वह उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम को बंद करने की दिशा में काम करेंगे। इस वार्ता के बाद राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा था कि उत्तर कोरिया अब परमाणु ख़तरा नहीं है।

हालांकि इसको लेकर अमरीका में ट्रंप की आलोचना भी हुई थी। विपक्ष का कहना था कि ट्रंप ने किम जोंग उन से परमाणु हथियार खत्म करने के लिए कोई ठोस वादा लिए बिना ही उन्हें ढील दे दी।

समाचार पत्र 'द वॉशिंगटन पोस्ट' ने अधिकारियों के हवाले से कहा है कि उत्तर कोरिया की राजधानी प्योंगयोंग के नज़दीक सानुमडोंग में एक या दो तरल ईंधन वाली अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइलें (आईसीबीएम) बना रहा है। इस निर्माण स्थल पर डीपीआरके ने अमरीका तक पहुंच रखने वाली अपनी पहली आईसीबीएम ह्वासोंग-15 निर्मित की थी।

हालांकि एक अमरीकी अधिकारी ने रॉयटर्स से कहा है कि तरल ईंधन वाली आईसीबीएम से अमरीका को उतना ख़तरा नहीं है जितना ठोस ईंधन वाली आईसीबीएम से होता है, क्योंकि तरल ईंधन भरने में समय लगता है।

अमेरिका के मिडिलबेरी इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज (एमआईआईएस) से जुड़े विशेषज्ञ जेफरी लुइस ने वॉशिंगटन पोस्ट को बताया, "उपग्रह से ली गईं सानुमडोंग स्थल की तस्वीरें बताती हैं कि वहां काम चल रहा है।"

उन्होंने कहा, "यह स्थल किसी भी तरह से निष्क्रिय नहीं है। हमने वहां से शिपिंग कंटेनर और वाहन आते-जाते देखे हैं। यह वही जगह है जहां वे आईसीबीएम और अंतरिक्ष प्रक्षेपण यान बनाते हैं।"

Updated : 2018-07-31T19:13:51+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top