Top
Home > विदेश > तुर्की में आर्थिक संकट के लिए यूसए नहीं जिम्मेवार : व्हाइट हाउस

तुर्की में आर्थिक संकट के लिए यूसए नहीं जिम्मेवार : व्हाइट हाउस

तुर्की में आर्थिक संकट के लिए यूसए नहीं जिम्मेवार : व्हाइट हाउस
X

वाशिंगटन। अमेरिका ने तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप अर्दोआन के आरोपों को खारिज करते हुए कहा है कि वह लीरा की की मतों में लगातार गिरावट के लिए जिम्मेवार नहीं है। यह जानकारी मंगलवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली।

समाचार एजेंसी रॉयटर के अनुसार, बाद व्हाइट हाउस ने कहा है कि वह तुर्की के आर्थिक हालात पर करीब से नजर रखे हुए है। साथ ही इस बात से इनकार किया है कि तुर्की में आर्थिक संकट की वजह अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के फैसले हैं।

विदित हो कि अमरीका ने तुर्की से होने वाले एल्युमीनियम और स्टील उत्पादों के आयात पर शुल्क बढ़ा दिया है। इससे तुर्की की मुद्रा लीरा में भारी गिरावट दर्ज की गई। इस पर तुर्की के राष्ट्रपति अर्दोआन ने अमरीका पर तुर्की की पीठ में छुरा भोंकने का आरोप लगाया था।

उन्होंने कहा, ''एक तरफ आप हमारे कूटनीतिक सहयोगी होने का दावा करते हैं, दूसरी तरफ़ आप हम पर हमला करने जा रहे हैं? यह अस्वीकार्य है। हम अफगानिस्तान, सोमालिया और नाटो में आपके साथ काम कर रहे हैं और अचानक एक सुबह आप हमारी पीठ में छुरा घोंप देते हैं. यह मंजूर नहीं होगा।''

व्हाइट हाउस के आर्थिक सलाहकार केविन हैसेट का कहना है कि तुर्की से अमेरिका बहुत कम एल्युमीनियम और स्टील आयात करता है, इसलिए वहां के आर्थिक संकट के लिए ट्रंप प्रशासन के फैसले को ज़िम्मेदार नहीं ठहराया जाना चाहिए।

इस बीच जर्मनी भी तुर्की के समर्थन में उतर आया है। जर्मन चांसलर एंगेला मर्केल ने कहा कि तुर्की की अर्थव्यवस्था चरमराने से किसी को कोई फायदा नहीं होगा।

उल्लेखनीय है कि अमरीका और तुर्की के बीच बढ़ते तनाव की वजह एंड्र्यू ब्रुसन नाम के एक पादरी को भी बताया जा रहा है।

तुर्की ने उन्हें साल 2016 के नाकाम तख्तापलट के साजिशकर्ताओं से संपर्क होने के आरोप में उन्हें हिरासत में लिया था।अमरीका उनकी रिहाई की मांग कर रहा है।

Updated : 2018-08-14T19:23:47+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top