Top
Home > विदेश > कोरोना वायरस से छह मौतों के बाद ईरान में स्कूल और सांस्कृतिक केंद्र बंद

कोरोना वायरस से छह मौतों के बाद ईरान में स्कूल और सांस्कृतिक केंद्र बंद

कोरोना वायरस से छह मौतों के बाद ईरान में स्कूल और सांस्कृतिक केंद्र बंद
X

तेहरान। ईरान में कोरोना वायरस से छठवीं मौत की सूचना मिलने के बाद सभी प्रभावित प्रांतों में अधिकारियों ने महामारी को फैलने से रोकने के लिए विद्यालयों, महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों तथा सांस्कृतिक केंद्रों को आज से बंद करने का आदेश दिया है। ईरान में कोरोना वायरस से हुई मौतें एशिया-प्रशांत इलाके के बाहर किसी भी देश में सबसे ज्यादा हैं। ईरान में अब तक कोरोना वायरस के 28 मामलों की पुष्टि की जा चुकी है।

ईरान सरकार ने सप्ताह के अंत तक देश के सभी कला और सिनेमा कार्यक्रमों को रद्द करने की घोषणा की है, ताकि संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। ईरान का अनुमान है कि ये संक्रमण चीनी श्रमिकों से देश में आया था। बहरहाल इस दावे पर अभी तक कोई सबूत नहीं दिया गया है।

तेहरान शहर ने अगली सूचना तक मेट्रो स्टेशनों में सभी फव्वारे बंद कर दिए गए हैं। अधिकारियों ने फुटबॉल मैचों पर भी 10 दिनों तक के लिए रोक लगा दिया है। अतिरिक्त उपायों के तौर पर मेट्रो ट्रेन, कारों और सिटी बसों की रोजाना सफाई की जा रही है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने ईरान में कोरोना वायरस के फैलने की तेज गति पर चिंता जताई है। ईरान में बढ़ते मामलों से पड़ोसी देश भी प्रभावित हुए हैं। इराक ने ईरानी नागरिकों के सीमा पार करने पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है। इराकी एयरवेज ने ईरान के लिए उड़ानें भी रोक दी हैं। कुवैत एयरवेज ने ईरान से होने वाली सभी उड़ानों को स्थगित कर दिया। सऊदी अरब ने अपने नागरिकों और प्रवासियों को ईरान की यात्रा रोकने की सलाह दी है।

ईरान में कोरोनोवायरस से हुई मौतों के बाद पाकिस्तान के बलूचिस्तान राज्य ने ईरान के साथ सभी सीमावर्ती जिलों में तत्काल प्रभाव से आपातकाल लगा दिया है। प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार को बलूचिस्तान के मुख्यमंत्रीजाम कमाल ख़ान से संपर्क किया और वायरस को देश में प्रवेश करने से रोकने के उपायों पर चर्चा की। उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा कि वे ईरान के साथ झरझरा सीमा पर सभी सुरक्षात्मक उपाय करें।

ईरान से पाकिस्तान जाने वाले तीर्थयात्रियों और अन्य लोगों की जांच के लिए सीमावर्ती शहर ताफ्तान में प्रांतीय स्वास्थ्य विभाग ने एक आपातकालीन केंद्र और एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया है। कोरोना वायरस के कारण ईरान में हुई मौतों के बाद वहां थर्मल गन से लैस सात डॉक्टरों की एक टीम तैनात की गई है।

Updated : 23 Feb 2020 12:03 PM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top