Top
Home > विदेश > अफगानिस्तान में शांति के लिए यूसए बातचीत को तैयार : विदेश मंत्री पोंपियो

अफगानिस्तान में शांति के लिए यूसए बातचीत को तैयार : विदेश मंत्री पोंपियो

अफगानिस्तान में शांति के लिए यूसए बातचीत को तैयार : विदेश मंत्री पोंपियो
X

लॉस एंजेलिस। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने ईद-उल-अधा के बलिदान दिवस पर अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के युद्ध विराम के प्रस्ताव का स्वागत करते हुए कहा है कि अफगानिस्तान के तनाव को खत्म करने की दिशा में यह अहम कदम होगा। उन्होंने आशा जताई है कि पिछले ईद उल फितर पर युद्ध विराम की तुलना में यह युद्ध विराम सतत सुरक्षा की ओर कदम बढ़ाएगा। ईद-उल-अधा सोमवार से शुरू होगा, जो तीन दिन चलेगा।

तालिबान के प्रवक्ता जबी उल्लाह मुजाहिद ने अशरफ गनी के प्रस्ताव पर युद्ध विराम पर तो कोई सीधी प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं की, लेकिन इतना जरूर कहा कि बेहतर होगा कि सरकार जेलों में बंद सैकड़ों बंदियों को रिहा करे और उन्हें अपने परिवार से मिलने का अवसर दे। पहला युद्ध विराम एकतरफा था, तब अफगानिस्तान की सरकार की घोषणा के बाद तालिबान ने तीन दिन के लिए युद्ध विराम घोषित किया था। उस समय तालिबान के लड़ाके खुशी-खुशी हेलमंड प्रांत में आम लोगों से मिले थे। तब एक शांति का संदेश गया था।

अशरफ गनी ने रविवार को दारुल अमन महल से युद्ध विराम की घोषणा करते हुए कहा कि तालिबान युद्ध विराम की घोषणा करता है और बिना किसी शर्त इसे जारी रखता है तो यह युद्ध विराम महीनों तक जारी रह सकता है।

अमेरिकी विदेश मंत्री पोंपियो ने अफगानिस्तान में शांति स्थापना के लिए अमेरिका की ओर से पूरा सहयोग देने और वार्ता में हिस्सेदार बनने का भी संकेत दिया है। उन्होंने कहा है कि बातचीत में कोई बाधा नहीं है और सभी पक्षों को शांति के लिए स्वत: आगे आना चाहिए।

Updated : 2018-08-20T16:38:26+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top