Top
Home > विदेश > पीएनबी घोटाला मामला : बढ़ती जा रही है नीरव व मेहुल की परेशानी

पीएनबी घोटाला मामला : बढ़ती जा रही है नीरव व मेहुल की परेशानी

पीएनबी घोटाला मामला : बढ़ती जा रही है नीरव व मेहुल की परेशानी

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने इंटरपोल से अपनी नागवारी का प्रदर्शन करते हुए कहा है कि वह पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी मेहुल चोकसी की जानकारी लीक करना बंद करे। दूसरी तरफ अमेरिका स्थित दिवालिया समाधान न्यायालय की ओर से नियुक्त परीक्षक ने कहा है कि नीरव मोदी ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले की राशि को अमेरिका के एक फर्म के नाम ट्रांसफर कर दिया। दोनों घटनाएं घोटाले के आरोपी नीरव मोदी व मेहुल चोकसी की परेशानी बढ़ाने वाली हैं।

उल्लेखनीय है कि ईडी ने इंटरपोल पर आरोप लगाते कहा है कि वह मेहुल चोकसी को एजेंसी की ओर से दी गई जानकारी लीक कर रहा है। उल्लेखनीय है कि नीरव मोदी व मेहुल चोकसी के खिलाफ रेड कार्नर नोटिस जारी करने का ईडी की ओर से किया गया आग्रह अभी तक लंबित है। चूंकि इस आग्रह के क्रम में किसी भी देश की एजेंसी को मामले से संबंधित सभी जानकारी इंटरपोल को देना होता है| इसलिए ईडी ने सारी जानकारी इंटरपोल को दी है। ईडी ने कहा है कि इंटरपोल ने नोटिस जारी करने के लिए वही जानकारी मांगी जैसी आपत्ति चोकसी ने प्रदर्शित की है। एजेंसी ने कहा है कि इसका सीधा मतलब है कि इंटरपोल उसकी ओर से दी गई जानकारी लीक कर रहा है।

उधर, पीएनबी घोटाले के आरोपी नीरव मोदी के मामले में अमेरिका स्थित दिवालियापन समाधान न्यायालय की ओर से नियुक्त परीक्षक जॉन जे कार्नी ने बताया है कि घोटाले में जारी की गई फर्जी एलओयू के आधार पर निकाली गई राशि को ट्विनफिल्ड्स इंवेस्टमेंट को ट्रांसफर किया गया। बाद में इस राशि को नीरव मोदी के स्वामित्व वाली कंपनी बेली बैंक्स एंड बिडिल को हस्तांतरित कर दिया गया। उल्लेखनीय है कि इन सभी घटनाओं से पीएनबी घोटाले के दोनों आरोपियों की परेशानी बढ़ती ही जा रही है।

Updated : 2018-09-10T18:14:51+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top