Top
Home > विदेश > महाभियोग के जरिए हटाए गए ईरान के वित्त मंत्री

महाभियोग के जरिए हटाए गए ईरान के वित्त मंत्री

महाभियोग के जरिए हटाए गए ईरान के वित्त मंत्री
X

तेहरान। ईरान में जारी भारी आर्थिक संकट के बीच संसद ने वित्तमंत्री मसूद कर्बासियां को महाभियोग के जरिए पद से हटा दिया है। यह जानकारी सोमवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली।

समाचार एजेंसी तस्निम के अनुसार,संसद में अविश्वास प्रस्ताव पर मत विभाजन में मसूद के पक्ष में 121 और विपक्ष में 137 मत पड़े। अविश्वास प्रस्ताव यह कहकर लाया गया था कि वित्त मंत्री देश की बैंकिंग व्यवस्था, कर नियमन और अर्थव्यवस्था को संभालने में विफल रहे हैं।

विदित हो कि ईरान में पिछले दो सप्ताहों में दो मंत्रियों को महाभियोग के जरिए हटाया जा चुका है। गत आठ अगस्त को देश के श्रम मंत्री अली रबेई को हटाया गया था।

उल्लेखनीय है कि राष्ट्रपति हसन रूहानी की सरकार ईरान में बढ़ती महंगाई और ईरानी मुद्रा रियाल की गिरती कीमत को काबू में करने के लिए जूझ रही है। हाल यह है कि इस समय रूहानी ना सिर्फ कट्टरपंथी, बल्कि सुधारवादी गुट की भी आलोचना झेल रहे हैं।

अमरीका ने इस साल मई महीने में ईरान पर साल 2015 में हटाए प्रतिबंध दोबारा लगा दिए थे। इसके बाद ईरान में वित्तीय संकट और बढ़ गया है अौा महंगाई चरम पर है।

समाचार एजेंसी तस्निम की रिपोर्ट के मुताबिक, ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जावेद जरीफ ने रविवार को अमरीका पर ईरान और इसके कारोबारी सहयोगियों के खिलाफ एक 'मनोवैज्ञानिक युद्ध' छेड़ने का आरोप लगाया।

सुधारवादी गुट के इलियास हजराती भी अविश्वास प्रस्ताव में कर्बासियां के खिलाफ वोट करने वालों में शामिल थे। उन्होंने रूहानी सरकार पर प्रतिबन्धों के असर से निबटने की तैयारियों में नाकाम होने का आरोप लगाया।

हजराती ने कहा, "हमने न तो उस वक़्त तैयारी की और न हम अब तैयार हैं। अभी हम जिस एक शख्स को पद से हटा सकते थे वह वित्तमंत्री थे, वरना राष्ट्रपति पर महाभियोग लगाया जाना चाहिए था।"

Updated : 2018-08-27T19:18:57+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top