Top
Home > विदेश > अमेरिका में ट्रेनी पायलट भारतीय लड़की की हवा में मौत, मदद के लिए आगे आई सुषमा स्वराज

अमेरिका में ट्रेनी पायलट भारतीय लड़की की हवा में मौत, मदद के लिए आगे आई सुषमा स्वराज

अमेरिका में ट्रेनी पायलट भारतीय लड़की की हवा में मौत, मदद के लिए आगे आई सुषमा स्वराज
X

नई दिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बिना मदद मांगे ही अमेरिका में कर्मशियल पायलट की ट्रेनिंग ले रही भारतीय लड़की निशा सेजवाल के परिवार की हरसंभव मदद के लिए अपने दूतावास को कह दिया। निशा सेजवाल की ट्रेनिंग के दौरान उनके विमान की दूसरे विमान से टकराने के चलते मौत हो गई। स्वराज ने अमेरिका स्थित भारतीय दूतावास को कहा कि निशा के परिजनों की हरसंभव मदद की जाए। साथ ही स्वराज ने निशा के निधन पर शोक जताया।

दिल्ली निवासी 19 साल की निशा सेजवाल अमेरिका के फ्लोरिडा के डीन इंटरनेशनल फ्लाइट स्कूल में कर्मशियल पायलट लाइसेंस की ट्रेनिंग ले रही थी। हादसे के दिन निशा अपने राल्फ नाइट के साथ एक विमान में थी, वहीं उनके दूसरे साथी जार्ज सांचेज और कॉर्लोस अल्फ्रेडो ज़ानेती दूसरा विमान उड़ा रहे थे। दोनों ही विमान ट्रेनिंग का हिस्सा थे और मियामी- डाडे के दलदली इलाके के ऊपर से उड़ रहे थे। जिस वक्त दोनो विमान हवा में थे, उस वक्त मौसम साफ था और उड़ान के पहले की सभी शर्तों को पूरा कर लिया गया था। बावजूद इसके दोनों विमान के चालक एक-दूसरे को देख नहीं पाए और आपस में टकरा गए। हवा में हुई इस टक्कर से दोनों विमानों के टुकड़े हो गए। बाद में पुलिस और फायर विभाग के खोजी दलों को बड़ी मुश्किल से इन चारों के शव दलदली इलाके में मिले। पुलिस और स्थानीय प्रशासन अब उन विमानों के ब्लैक बॉक्स खोज रहा है, जिससे पता लगाया जा सके कि आखिर ये हादसा कैसे हुआ।

निशा सेजवाल दिल्ली के डीएवी मॉडल स्कूल, युसूफ सराय और एमेटी इंटरनेशनल स्कूल, साकेत से पढ़ी थी। निशा ने सितम्बर, 2017 में फ्लोरिडा के डीन इंटरनेशनल फ्लाइट स्कूल में कर्मशियल पायलट लाइसेंस की ट्रेनिंग के लिए दाखिला लिया था।

Updated : 2018-07-20T17:29:01+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top