Top
Home > विदेश > आतंकियों पर भारत को मिला अमेरिका का समर्थन, इस सूची में शामिल हैं खूंखार आतंकी

आतंकियों पर भारत को मिला अमेरिका का समर्थन, इस सूची में शामिल हैं खूंखार आतंकी

आतंकियों पर भारत को मिला अमेरिका का समर्थन, इस सूची में शामिल हैं खूंखार आतंकी

न्यूयॉर्क। पाकिस्तान द्वारा समर्थित चार अपराधियों को आतंकवादी घोषित करने के भारत के फैसले को अमेरिका ने सराहा है। यह इस बात को भी सीधे तौर पर जाहिर करता है कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका भारत के साथ है। अमेरिका ने इस मौके पर कहा कि भारत के इस कदम से आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में सहायता मिलेगी।

भारत ने लश्कर-ए-तैयबा प्रमुख हाफिज सईद, जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर, कश्मीर में लश्कर-ए-तैयबा के सर्वोच्च कमांडर जकी-उर-रहमान लखवी और भगोड़े अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम को गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत आतंकवादी घोषित किया है। यह घोषणा बुधवार (4 सितंबर) को जारी एक गजट अधिसूचना के माध्यम से की गई। करीब एक महीना पहले ही संसद द्वारा गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम (यूएपीए) कानून में संशोधन को मंजूरी दी गई थी।

इस संशोधन के अनुसार, अब व्यक्तिगत तौर पर भी आतंकवादी घोषित किया जा सकता है, जबकि इससे पहले केवल समूहों या संगठनों को ही आतंकवादी घोषित किया जा सकता था। यह अधिसूचना गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम की धारा-35 की उपधारा (1) के खंड (क) के आधार पर जारी की गई है। यह केंद्र सरकार को अधिनियम की चौथी अनुसूची में किसी व्यक्ति के नाम को अधिसूचित करने का अधिकार देती है, अगर यह माना जाता है कि कोई व्यक्ति आतंकवाद में शामिल है।

केंद्र सरकार का मानना है कि सईद, अजहर, लखवी और दाऊद आतंकवाद में शामिल हैं और इन्हें यूएपीए के तहत आतंकवादी के रूप में अधिसूचित किया जाना चाहिए। मौलाना मसूद अजहर उर्फ मौलाना मोहम्मद मसूद अजहर अल्वी उर्फ वली आदम इस्सा का जन्म 10 जुलाई, 1968 को हुआ था। वह अल्लाह बक्श साबिर की संतान है और आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का संस्थापक व एवं प्रमुख नेता है।

अधिसूचना में कहा गया है, "अजहर को इस साल मई में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव-1267 के तहत एक वैश्विक आतंकवादी घोषित किया गया है। इसी के साथ आतंकवादी गतिविधि रोकथाम अधिनियम (पोटा) के विशेष न्यायाधीश द्वारा भी उसे भगोड़ा अपराधी घोषित किया गया है।"

अजहर पर भारत में विभिन्न आतंकवादी हमलों में शामिल होने का आरोप लगाया गया है। अजहर इस साल 14 फरवरी को पुलवामा आतंकी हमले में भी शामिल रहा था, जिसमें 40 अर्धसैनिक बल के जवान मारे गए थे। इसके अलावा हाफिज सईद उर्फ मुहम्मद सईद का जन्म पांच जून, 1950 को हुआ था। वह घोषित आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा और जमात-उद-दावा का संस्थापक व प्रमुख नेता है।

लश्कर को एक आतंकवादी संगठन के रूप में सूचीबद्ध किया गया है और सईद को 10 दिसंबर, 2008 को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव-1267 के तहत संयुक्त राष्ट्र द्वारा एक वैश्विक आतंकवादी घोषित किया गया है। वह मुंबई विस्फोट में शामिल रहा है।

इसी के साथ लखवी उर्फ जाकिर रहमान का जन्म 30 दिसंबर, 1960 को हुआ था। अधिसूचना में उसे लश्कर के मुख्य कमांडर और इसके संस्थापक सदस्यों में से एक बताया गया है। उसे संयुक्त राष्ट्र द्वारा 10 दिसंबर, 2008 को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव-1267 के तहत एक वैश्विक आतंकवादी घोषित किया गया है। वह भारत में विभिन्न आतंकवादी हमलों में शामिल रहा है।

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम कासकर उर्फ अनीस इब्राहिम का जन्म 26 दिसंबर, 1955 को हुआ। दाऊद पर भारत और विदेशों में धार्मिक कट्टरवाद, आतंक के वित्तपोषण, हथियारों की तस्करी, जाली मुद्रा के प्रचलन, मनी लॉन्ड्रिंग, नशीले पदार्थों, जबरन वसूली और बेनामी अचल संपत्ति के कारोबार को बढ़ावा देने का आरोप है। उसे भी संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव-1267 के तहत एक वैश्विक आतंकवादी घोषित किया गया है।

Updated : 2019-09-05T17:11:51+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top