Top
Home > विदेश > कोरोना वायरस मचा रहा दुनिया में मौत का तांडव, उड़ानें रद्द

कोरोना वायरस मचा रहा दुनिया में मौत का तांडव, उड़ानें रद्द

कोरोना वायरस मचा रहा दुनिया में मौत का तांडव, उड़ानें रद्द
X

बीजिंग/नई दिल्ली। कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 170 हो गई। यह जानकारी चीन के स्वास्थ्य प्रशासन के प्रवक्ता ने गुरुवार को कोरोना वायरस से जकड़े वुहान शहर में दी। इस बीच चीन समेत दुनियाभर में इस रोग से पीड़ित कुल मरीजों की संख्या 7711 हो गई। मृतकों और मरीजों की बढ़ती संख्या से भारत समेत दुनियाभर के देश दहशत में हैं। भारत, ब्रिटेन, रूस, इंडोनेशिया और म्यांमार ने चीन की उड़ानों को रद्द कर दिया है। भारतीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने लोगों से अपील की है कि वे चीन की यात्रा करने से बचें।

भारतीय विमानन कंपनी एयर इंडिया ने दिल्ली-शंघाई उड़ान को 31 जनवरी से 14 फरवरी तक के लिए रद्द कर दिया है। इससे पहले इंडिगो एयरलाइंस भी 1 फरवरी से 20 फरवरी तक बेंगलूरु-हांगकांग रूट की फ्लाइट और दिल्ली से चेंगदु की विमान सेवा रद्द रहने की घोषणा कर चुकी है। इंडिगो ने कहा है कि कोलकाता और गुवांगझु की फ्लाइट जारी रहेगी। एयर इंडिया और इंडिगो ने कॉकपिट सदस्यों को दक्षिण पूर्व एशियाई देशों की यात्रा के दौरान एन-95 मास्क पहनने का निर्देश दिया है।

उधर, ब्रिटिश एयरवेज ने यात्रियों से खेद जताते हुए चीन से आने वाली और चीन जाने वाली अपनी सभी उड़ानों को रद्द कर दिया है। म्यांमार ने भी चीन की तीन उड़ानों को रद्द किया है। रूस की विमान कंपनी उरल्स ने पेरिस और रोम की फ्लाइटों को रद्द कर दिया है क्योंकि यहां संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है।

इंडोनेशिया की लॉयन एयर ग्रुप ने अपनी चीन की सभी उड़ानों को एक महीने के लिए रद्द कर दिया है। पपुआ न्यू ग्युना ने बुधवार को एशियाई लोगों के देश में आने पर प्रतिबंध लगा दिया है। भारतीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को ताजा एडवाइजरी करते हुए अपने नागरिकों से अपील की है कि अगर जरूरी न हो तो वे चीन की यात्रा करने से बचें। जो लोग 1 जनवरी 2020 को या इसके बाद चीन गए थे वो लोग नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर इसकी जानकारी दें। मंत्रालय ने 24 घंटे सातों दिन के लिए हेल्प लाइन नंबर 011-23978046 जारी किया है।

जयपुर के एसएमएस अस्पताल में भर्ती कोरोना वायरस के मेडिकल के संदिग्ध छात्र की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। चीन में पढ़ाई कर रहा यह छात्र 12 जनवरी को स्वदेश लौटा था। महाराष्ट्र में नौ संदिग्ध रोगियों को निगरानी में रखा गया है। नौ में से छह लोग मुंबई, दो पुणे और नांदेण में हैं।

Updated : 30 Jan 2020 7:17 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top