Top
Home > विदेश > ब्राजील के राष्ट्रपति ने कहा - कोरोना से कुछ लोग मरेंगे ही, सड़कों पर मौत की वजह से हम कार फैक्ट्री बंद नहीं कर सकते

ब्राजील के राष्ट्रपति ने कहा - कोरोना से कुछ लोग मरेंगे ही, सड़कों पर मौत की वजह से हम कार फैक्ट्री बंद नहीं कर सकते

ब्राजील के राष्ट्रपति ने कहा - कोरोना से कुछ लोग मरेंगे ही, सड़कों पर मौत की वजह से हम कार फैक्ट्री बंद नहीं कर सकते
X

रियो डि जेनेरो। एक ओर जहां कोरोना वायरस से पूरी दुनिया दहशत में है, वहीं दूसरी ओर ब्राजील के राष्ट्रपति ने कोरोना वायरस को लेकर एक अजीब बयान दिया है। ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो ने कहा कि कोरोना वायरस से कुछ लोग मरेंगे, निश्चत तौर पर कुछ लोग मरेंगे, यही जीवन है। आप सड़क दुर्घटना की वजह से कार फैक्ट्री को बंद नहीं कर सकते। दरअसल, ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो ने कोविड-19 से हुई मौतों पर अपनी ही सरकार के आंकड़ों पर शुक्रवार को संदेह जताया। दो टूक शब्दों में उन्होंने कहा कि उन्हें शक है कि 'राजनीतिक हितों' को साधने की वजह से ये मामले बढ़ा-चढ़ा कर बताए जा रहे हैं।

धुर दक्षिणपंथी नेता जायर बोलसोनारो ने कहा कि उन्हें साओ पाउलो राज्य से सामने आ रहे कोरोना वायरस के मामलों पर भरोसा नहीं है। बोलसोनारो ने प्रकोप के संबंध में दी गई प्रतिक्रिया को लेकर इसी राज्य के गवर्नर पर हमला बोला था। उन्होंने इस बीमारी की तुलना 'मामूली फ्लू' से करते हुए इसे लेकर दी जा रही प्रतिक्रियाओं को 'बढ़ा-चढ़ा कर दी जा रही प्रतिक्रियाएं बताया था।'

शुक्रवार की रात में एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा, मुझे माफ करें, मगर कुछ लोग मरेंगे, वे मरेंगे...यही जीवन है। ट्रैफिक डेथ की वजह से आप कार फैक्ट्री को बंद नहीं कर सकते।'

औद्योगिक केंद्र साओ पाउलो किसी भी अन्य लातिन अमेरिकी देश के मुकाबले कोविड-19 से अत्यधिक प्रभावित है। संघीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक ब्राजील में हुई 92 मौतों से 68 मौत साओ पाउलो में ही हुई है। लेकिन बोलसोनारो ने इस आंकड़े पर सवाल उठाए हैं।

उन्होंने बैंड टीवी पर एक साक्षात्कार में कहा, 'यह साओ पाउलो के लिए तो बहुत ही बड़ी संख्या है। हम कुछ राजनीतिक हितों के पक्ष में इन आंकड़ों को नहीं मोड़ सकते। मुझे साउ पाउलो से आ रही संख्या पर यकीन नहीं है।' दूसरी तरफ ब्राजील की एक अदालत ने बोलसोनारो के उस आदेश पर शुक्रवार को रोक लगा दी जिसमें कोरोना वायरस को लेकर जारी पाबंदी संबंधी व्यवस्था से उपासना स्थलों को छूट दी गई है। राष्ट्रपति ने बृहस्पतिवार को एक आदेश जारी कर धार्मिक गतिविधियों को 'अत्यावश्यक सेवाएं' घोषित किया था।

Updated : 28 March 2020 5:47 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top