Top
Home > विदेश > यूक्रेन प्लेन क्रैश की जांच में शामिल होगा अमेरिका

यूक्रेन प्लेन क्रैश की जांच में शामिल होगा अमेरिका

यूक्रेन प्लेन क्रैश की जांच में शामिल होगा अमेरिका
X

वाशिंगटन। यूक्रेन के एक बोइंग विमान 737-800 के बुधवार तड़के तेहरान हवाई अड्डे पर दुर्घटनाग्रस्त होने की घटना को ले कर तरह-तरह की आशंकाएं व्यक्त की जा रही हैं। अमेरिकी ख़ुफ़िया रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि यह एक आतंकवादी घटना थी, जिसमें यूक्रेन के विमान को विस्फोटक मिसाइल से उड़ाया गया है।

अमेरिकी अधिकारियों ने कहा है कि इस विमान को एक रूसी मिसाइल से उड़ाया गया है। कनाडा, आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के प्रधान मंत्रियों ने इस घटना की अन्तरराष्ट्रीय जांच कराए जाने की मांग की है। कनाडा के प्रधानमंत्री ने साथ ही यह भी कहा है कि संभव है, यह अनजाने में हुआ हो। इंग्लैंड के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है कि इस विमान को विस्फोटक मिसाइल से उड़ाया गया है। यह विमान जैसे ही तेहरान हवाई अड्डे से उड़ा, थोड़ी देर बाद दुर्घटना ग्रस्त हो गया था।

इस विमान में कनाडा के 63 यात्रियों सहित कुल 177 यात्री थे, जो सभी इस विमान दुर्घटना में मारे गए हैं। इस घटना के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प, इंग्लैंड के प्रधान मंत्री बोरिस जानसन और कनाडा के प्रधान मंत्री जस्टिन ट्रूडो ने भी विमान दुर्घटना पर आशंका ज़ाहिर की हैं। इस विमान का फ़्लाइट रिकार्डर ''ब्लैक बाक्स'' मिल चुका है, जो ईरान के विमानन अथॉरिटी के क़ब्ज़े में है। ईरान ने कहा है कि वह यह ब्लैक बाक्स विमान बनाने वाली अमेरिकी बोइंग कंपनी के हवाले नहीं करेगी।

सीएनएन ने दावा किया है कि उनके क़ब्ज़े में एक ऐसा वीडियो है, जिसमें यह देखा गया है कि एक मिसाइल ठीक उस समय आसमान में एक उड़ते हुए दृश्य का पीछा कर रही थी। यह वही समय है, जिस समय ईरान ने बग़दाद स्थित अमेरिकी ठिकानों पर 22 मिसाइलें दाग़ी थीं। सीएनएन ने कहा है कि यह वीडियो गुरुवार को मिला है। उधर, कनाडा, यूके और आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्रियों ने कहा है कि यह दुर्घटना महज़ एक घटना नहीं थी। उन्होंने कहा है कि इस विमान को ईरानी मिसाइल दागकर गिराया गया है।

Updated : 10 Jan 2020 6:23 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top