Top
Home > देश > यमुना का जलस्तर पहुंचा खतरे के निशान के पार

यमुना का जलस्तर पहुंचा खतरे के निशान के पार

हरियाणा ने हथीनकुंड से फिर छोड़ा 3.50 लाख क्यूसेक पानी, राहत-बचाव के लिए 43 नौका तैनात

यमुना का जलस्तर पहुंचा खतरे के निशान के पार

नई दिल्ली। हरियाणा के हथनीकुंड बैराज से छोड़े जा रहे पानी और बारिश के कारण शनिवार को दिल्ली में यमुना नदी खतरे के निशान को पार कर गई। यमुना का जलस्तर फिलहाल 205.06 मीटर है, जो खतरे के निशान से 0.23 मीटर अधिक है। प्रशासन ने बचाव और राहत कार्यों के लिए यमुना में 43 नौका तैनात कर दी हैं। इस बीच आज शनिवार को हरियाणा ने हथीनकुंड से फिर 3.50 लाख क्यूसेक पानी छोड़ दिया है| आज छोड़ा गया पानी 72 घंटे बाद दिल्ली पहुंचेगा| जरूरी सावधानी नहीं बरती गई तो यमुना दिल्ली में तबाही मचा सकती हैं|

दिल्ली सरकार ने एहतियातन पहले ही एक चेतावनी जारी कर रखी है। बाढ़ के खतरे को देखते हुए दिल्ली सरकार के बाढ़ एवं सिंचाई विभाग ने यमुना किनारे के निचले इलाकों में रहने वाले इलाकों में स्थान खाली कराने की तैयारी में जुटी है। प्रशासन ने निचले इलाकों में रह रहे लोगों को घर खाली करने के लिए तैयार रहने को कहा है।

दिल्ली सरकार के बाढ़ एवं सिंचाई विभाग के एक अधिकारी ने आज कहा दिल्ली में यमुना के पानी का स्तर 10 बजे 205.06 मीटर तक बढ़ गया। उन्होंने कहा कि पानी का स्तर आगे और बढ़ेगा लेकिन फिलहाल कोई खतरा नहीं है।

अधिकारी ने बताया कि हरियाणा ने हथनीकुंड बैराज से आज सुबह 11 बजे 3,11,190 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। इससे पहले सुबह 9 बजे 2,11,874 क्यूसेक, सुबह 8 बजे 19,3607 और सुबह 7 बजे 180354 क्यूसेक पानी छोड़ा गया जिसका इस्तेमाल दिल्ली में पीने के लिए किया जाता है।

पिछले दो दिनों से हो रही बारिश के कारण राष्ट्रीय राजधानी और आसपास के इलाकों में जलभराव के कारण यातायात को को बुरी तरह प्रभावित कर दिया है|

Updated : 2018-07-28T20:29:48+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top