Latest News
Home > देश > सपा-बसपा गठबन्धन पर देश भर की नजर, तेजस्वी ने अखिलेश से की मुलाकात

सपा-बसपा गठबन्धन पर देश भर की नजर, तेजस्वी ने अखिलेश से की मुलाकात

सपा-बसपा गठबन्धन पर देश भर की नजर, तेजस्वी ने अखिलेश से की मुलाकात
X

लखनऊ। बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल नेता तेजस्वी यादव ने सोमवार को यहां कहा कि समाजवादी पार्टी तथा बहुजन समाजवादी पार्टी गठबन्धन देश की राजनीतिक दिशा बदलने वाला साबित होगा।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात करने के बाद तेजस्वी यादव ने एक साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि दोनों पार्टियों के गठबन्धन पर पूरे देश की नजर है क्योंकि यही गठबन्धन भाजपा को करारा झटका देगा।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की 80, बिहार की 40 और झारखण्ड की 14 लोकसभा सीटों में से करीब 115 सीटें भाजपा या उसके सहयोगी दलों के पास हैं लेकिन इस बार स्थिति दूसरी होगी। उनका दावा है कि इन्हीं सीटों में से ही राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबन्धन की करीब 100 सीटें कम होने जा रही हैं। उत्तर प्रदेश और बिहार में हुये गठबन्धन ही भाजपा और उसके सहयोगी दलों का सफाया कर देगा।

उन्होंने कहा कि भाजपा और उसके नेताओं के अहंकारी रवैये से देश में अघोषित आपातकाल जैसी स्थिति है। आरक्षण खत्म करने का प्रयास किया जा रहा है जबकि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने कई बार आरक्षण की समीक्षा करने की बात कही है।

श्री यादव ने कहा कि उनके पिता लालू प्रसाद यादव ने भाजपा के आगे घुटने नहीं टेके, इसीलिए जेल में हैं। संविधान से छेड़छाड़ करने के साथ ही संवैधानिक संस्थाओं पर तानाशाही की जा रही है।

उन्होंने कहा कि उनकी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से सिद्धांतों की लड़ाई है। जब कायदे से उन्हें मूंछ भी नहीं आई थी, तब उन पर केस दर्ज करवा दिया गया था। उसमें हमारे चाचा नीतीश कुमार का भी हाथ था। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव और मायावती ने देशहित में यह गठबंधन किया है। आने वाले चुनावों में बीजेपी का सफाया होना तय है। 2015 के चुनाव में मोदी जी ने बिहार की बोली लगाई थी, वादे के बावजूद बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिया। ईडी और सीबीआई अब एजेंसियां नहीं रह गई बल्कि बीजेपी की पार्टनर बन गई हैं जो बीजेपी को फायदा पहुंचाने के लिए विरोधियों को परेशान करती हैं।

इससे पहले कल रात तेजस्वी ने बसपा अध्यक्ष मायावती से मुलाकात करके उन्हें जन्मदिन की अग्रिम बधाई भी दी।

तेजस्वी के साथ साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोले अखिलेश यादव, कहा कि आज समाज का हर वर्ग बीजेपी से नाराज है। चाहे वो नौजवान हो या किसान हो। रोजगार के नाम पर युवाओं को धोखा दिया गया है। सीएम योगी पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा कि वह कहते हैं ठोक दो। जनता और पुलिस कन्फ्यूज हो गए कि किसको ठोक दें? नतीजा आपके सामने है। योगी ने भाषा के स्तर को गिराते हुए हमारे ऊपर आरोप लगाए, लेकिन हम समाजवादी लोग अपनी भाषा नहीं बदलेंगे। महागठबंधन के पीएम उम्मीदवार की बात को टालते हुए अखिलेश ने कहा कि नए साल पर अगर नया प्रधानमंत्री हो तो कितना अच्छा रहेगा। आप में से भी कई लोग चाहते हैं कि नई सरकार बने और नया प्रधानमंत्री बने। (हि.स.)

Updated : 2019-02-14T14:55:06+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top