Top
Home > देश > दिल्ली से भोपाल तक होने लगी हलचल, टी-18 की तैयारियां शुरू

दिल्ली से भोपाल तक होने लगी हलचल, टी-18 की तैयारियां शुरू

कई चरणों में होना है ट्रेन का परीक्षण, रेलवे ट्रैक पर हो रहे हैं काम

दिल्ली से भोपाल तक होने लगी हलचल, टी-18 की तैयारियां शुरू

स्वदेश वेब डेस्क। आगामी दिसम्बर महीने में शताब्दी एक्सप्रेस को आधुनिक रैक टी-18 मिल जाएगा। हबीबगंज स्टेशन से नई दिल्ली के बीच चलने वाली इस ट्रेन के आधुनिक रैक में मूवेबल चेयर लगी हैं, जो यात्रियों के सफर को ज्यादा आरामदायक बनाएंगी। इस ट्रेन के तैयार होने के बाद अब दिल्ली से लेकर भोपाल तक हलचल शुरू हो गई है। सूत्रों की मानें तो इस ट्रेन के तैयार होने के बाद उत्तर रेलवे व पश्चिम रेलवे ने अपने स्तर पर तैयारियां भी शुरू कर दी हैं। हालांकि अभी इस ट्रेन को लेकर किसी भी रेलवे अधिकारी ने आधिकारिक घोषणा नहीं की है कि यह ट्रेन कब दिल्ली-भोपाल रेल मार्ग पर दौड़ेगी। बताया जा रहा है कि अभी इस ट्रेन का कई रेल मार्गों पर परीक्षण किया जाएगा। इसमें एक महीना लगेगा। कोई बड़ी तकनीकी कमी नहीं मिली तो ट्रेन को दिसम्बर महीने के पहले सप्ताह में नई दिल्ली से हबीबगंज के बीच चलने वाली शताब्दी के रैक से रिप्लेस कर देंगे। एक कोच में छह सीसीटीवी कैमरे लगे होंगे। मनोरंजन के लिए सभी कोचों में एलईडी लगी होंगी।

चुनावी साल होने के कारण टी-18 रैक पर अन्य जोन की भी नजर है। ऐसे में आखिरी समय में इस रैक को चलाने में बदलाव होने की संभावना भी है। हालांकि रेलवे के अधिकारी पूर्व में कह चुके हैं कि पहला रैक हबीबगंज-नई दिल्ली शताब्दी एक्सप्रेस को ही मिलेगा।

टी-18 ट्रेन का परीक्षण शुरू हो चुका है। यह परीक्षण अलग-अलग स्पीड में कई चरणों में होगा। ट्रायल के बाद बड़े स्तर पर बदलाव की जरूरत पडऩे पर रैक को पुन: चैन्नई कोच फैक्ट्री भेजा जा सकता है।

टी-18 ट्रेन का रैक 220 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने में सक्षम हैं, लेकिन इसे नई दिल्ली से हबीबगंज के बीच करीब 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलाया जाना है। कोचों की अंदरूनी बनावट स्टील की होगी, जो स्क्रू रहित होगी। हादसा होता भी है तो यात्रियों को कम चोटें आएंगी।




Updated : 2018-11-03T21:35:39+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top